संसद भवन में राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद को दी गई विदाई, आज उनके कार्यकाल का आखिरी दिन

संसद भवन में राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद को दी गई विदाई, आज उनके कार्यकाल का आखिरी दिन

NEW DELHI : देश के 15वें राष्ट्रपति के लिए द्रौपदी मुर्मू निर्वाचित हो चुकी हैं। कल वह राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण करेंगी। उससे पहले बीती रात वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए संसद भवन में विदाई समारोह का आयोजित किया गया, इस कार्यक्रम में पीएम मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला और दोनों सदनों के सांसद भी शामिल हुए। राष्ट्रपति कोविंद के सेंट्रल हॉल में पहुंचते ही पीएम मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने उनका स्वागत किया। बता दें कि राष्ट्रपति के तौर पर रामनाथ कोविंद का कार्यकाल आज खत्म हो रहा है। 24 जुलाई की मध्य रात्रि को उनका कार्यकाल पूरा हो जाएगा। 

जातिगत राजनीति से ऊपर उठने की जरुरत

संसद भवन में  अपने विदाई समारोह को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि आज आप सबसे विदाई ले रहा हूं, मेरा ह्रदय द्रवित है, लेकिन इस बात का संतोष है कि मैंने अपनी पूरी क्षमता से कर्तव्यों का निर्वहन किया। देश की सेवा करने का मुझे जो मौका मिला है, उसके लिए देशवासियों का सदैव आभारी रहूंगा। आज देश विकास की राह पर है, विपक्षी पार्टियों को भी जातिगत और परिवारवादी राजनीति से ऊपर उठने की जरूरत है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा अगर आप सरकार की किसी नीति से असहमत हैं तो संविधान में आपको विरोध प्रकट करने का अधिकार है। महात्मा गांधी ने विरोध प्रकट करने के लिए देश को अहिंसा का मार्ग दिखाया। हमें उनके विचारों और सीख को याद रखने की जरूरत है।

रामनाथ कोविंद ने द्रौपद्री मुर्मू को बधाई दी


 कोरोना काल में हमने लोगों को फ्री राशन दिया। कोरोना काल में भारत ने जिस तरह से काम किया, वह सराहनीय है। पीएम मोदी और मंत्रिमंडल से मुझे जो सम्मान मिला, उसके लिए सभी का धन्यवाद। अपनी बात खत्म करने से पहले मैं नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपद्री मुर्मू को बधाई देता हूं।

Find Us on Facebook

Trending News