बेतिया में की पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा, बिहार में बंद होना चाहिए प्राईवेट स्कूल

बेतिया में की पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा, बिहार में बंद होना चाहिए प्राईवेट स्कूल

BETTIAH : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी दो दिवसीय दौरे पर पश्चिम चम्पारण जिले के हरनाटाड पहुंचे।  जहाँ थारू समाज के लोगों ने उनका जमकर स्वागत किया। वहीँ उन्हें थरूहट का प्रसिद्ध अन्नदी चावल का भूंजा भेंट किया।  थरुहट का राजधानी कहे जाने वाले हारना टाँड़ में  थारू कल्याण महासंघ सम्मान समारोह में जीतन राम मांझी ने कहा की बिहार में कॉमन एडुकेशन पॉलिसी लागू हो और प्राइवेट स्कूल बन्द होना चाहिए। शराब कानून नीति में भी बदलाव होनी चाहिए।

बताते चलें की बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी  वाल्मीकिनगर में  पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेश में भाग लेने जा रहे थे। 16 दिसम्बर को हम पार्टी का राष्ट्रीय परिषद के अधिवेशन वाल्मीकिनगर में होना है। इस बीच मांझी ने  शराब को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा बड़े बड़े अधिकारी से लेकर मंत्री तक रात को 10 बजे बाद शराब पीते हैं, लेकिन उन्हें कोई नही गिरफ्तार करता है। अगर कोई दवा के रूप में थोड़ी शराब लेता है तो यह कोई गलत नही है। उन्होंने कहा की शराब बंदी कानून के आड़ में गरीबों को पकड़ कर जेल में डाला जाता रहा है। थोड़ी सी शराब सेवन करने पर जेल भेजना न्याय नही है। मेडिकल साइंस भी कहता है की लिमिट में शराब लाभदायक है। उन्होंने कहा की एक समान शिक्षा नीति लागू हो। जापान,भूटान ,अमेरिका में प्राइवेट स्कूल नही है। हिंदुस्तान में भी प्राइवेट स्कूल बंद होना चाहिए।

वही थारू संघ ने पूर्व मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने थारू समुदाय का लोकप्रिय नृत्य झमटा नृत्य किया और आनंदी चावल का भुजा दे कर पूर्व मुख्यमंत्री को सम्मानित किया गया। इस मौके पर दर्जनो गाँव के सैकड़ो थारू महिला व पुरूष के साथ कई गणमान्य लोग उपस्थित हुए। 

बेतिया से आशीष की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News