गया डीएम ने राजन पंचायत में नाली गली सहित कई योजनाओं का किया निरीक्षण, ग्रामीणों से योजनाओं की ली जानकारी

गया डीएम ने राजन पंचायत में नाली गली सहित कई योजनाओं का किया निरीक्षण, ग्रामीणों से योजनाओं की ली जानकारी

GAYA : जिला पदाधिकारी गया डॉक्टर त्यागराजन एसएम द्वारा आज शेरघाटी अनुमंडल अंतर्गत गुरुआ प्रखंड के राजन पंचायत का निरीक्षण किया गया। राजन गांव के वार्ड संख्या 3 में निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी ने स्थानीय मुखिया से नली गली निर्माण के संबंध में जानकारी प्राप्त किया। उन्होंने स्थानीय मुखिया को निर्देश दिया कि प्रखंड विकास पदाधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए योजना को लेते हुए 15 जनवरी 2023 तक हर हाल में नली युक्त गली का निर्माण करावे। ग्रामीणों का पानी अच्छी तरीके से खेतों में ना गिरकर किसी दूसरे स्थान पर गिरे। उन्होंने उपस्थित प्रखंड तकनीकी सहायक को निर्देश दिया कि उक्त नली-गली का अच्छे से सर्वे करते हुए किसी भी घर के सामने पानी ना जमे, पानी की निकासी अच्छे तरीके से हो, इसे ध्यान में रखते हुए नक्शा तैयार करें।


स्थानीय मुखिया द्वारा बताया गया कि इस वार्ड में लगभग 250 लोग रहते हैं। सभी घरों में नल जल योजना का कनेक्शन दिया गया है तथा सुचारू रूप से पानी मुहैया कराया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी ने उपस्थित ग्रामीणों से जानकारी लिया की इस गांव में सरकारी विद्यालय में पढ़ाई कैसी होती है। शिक्षकों की उपस्थिति क्या रहती है। आंगनवाड़ी सेंटर चलता है या नहीं, उसमें बच्चों को खाना मिलता है या नहीं। गर्भवती महिलाओं को कितने समय खाना मिलता है, सोलर स्ट्रीट लाइट लगाया गया है या नहीं इत्यादि बिंदुओं पर जानकारी लिया। इसके साथ ही उन्होंने यह भी पूछा कि यह पंचायत सूखाग्रस्त घोषित है। इस पंचायत में कितने घरों को सरकार द्वारा मुआवजे की राशि दी गयी है तथा कितने लोग मुआवजे की राशि से वंचित है। इन सब बातों को जिला पदाधिकारी ने ग्रामीणों से जानकारी लिया। ग्रामीणों द्वारा सभी प्रश्नों का संतोषप्रद जवाब देते हुए जिला पदाधिकारी ने खुशी जाहिर किया। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अंचलाधिकारी को निर्देश दिया कि ग्रामीणों के समस्याओं को नियमानुसार निवारण करें।

इसके उपरांत गुरुआ प्रखंड के राजन पंचायत के वार्ड संख्या 4 में बनाए गए सूखा एवं लीला कचरा अवशिष्ट प्रणाली का उद्घाटन जिला पदाधिकारी के द्वारा किया गया। उपस्थित पदाधिकारी ने बताया कि गुरुवार प्रखंड के 2 पंचायत को सूखा एवं गला कचरा अपशिष्ट प्रबंधन हेतु लिया गया है जिसमें राजन पंचायत का आज उद्घाटन किया गया है। इस पंचायत में कुल 1400 घर है जिसमें 1045 घरों में डस्टबिन का वितरण किया गया है। शेष घरों में डस्टबिन वितरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कुल 13 वार्डो से कल से कचरा उठाने का कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। सभी वार्डों के लिए अलग-अलग ठेला उपलब्ध है।

निरीक्षण के क्रम में ग्रामीणों ने जिला पदाधिकारी को बताया कि उक्त पंचायत में नामित राजस्व कर्मचारी द्वारा म्यूटेशन, परिमार्जन तथा एलपीसी निर्गत के कार्यों में आवेदनों को काफी लंबित रख रहे हैं। जिला पदाधिकारी ने अंचलाधिकारी को सख्त हिदायत दिया कि ग्रामीणों से आवेदनों की नाम सहित सूची लेते हुए 24 घंटे के अंदर प्रतिवेदन उपलब्ध करावे तथा जिस राजस्व कर्मचारी के विरुद्ध शिकायत है। उस राजस्व कर्मचारी को इस हल्का से हटाते हुए किसी दूसरे हल्का में भेजा जाए। साथ ही अगर राजस्व कर्मचारी द्वारा जानबूझकर आवेदनों को लंबित रखा जा रहा है तो उनके विरुद्ध कार्रवाई हेतु प्रतिवेदित करें।

वहीँ स्थलीय प्रगति से अवगत होने के लिये जिला पदधिकारी, गया डा॰ त्यागराजन एस॰ एम॰ गुरुआ के राजन पंचायत के इटहरी गॉव में स्थापित मशरुम उत्पादन ईकाई पहुॅचे। जहाँ उन्होने मशरुम कम्पोस्ट तैयार करने से उत्पादन तक की सभी तकनीकी का बारीकी से निरीक्षण किया।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News