कर्पूरी ठाकुर को आवास जाने के लिए 'जीप' दे दीजिए, अध्यक्ष को जवाब मिला- जीप में तेल नहीं, JDU बोली- लालू ने हमेशा जननायक का अपमान किया

 कर्पूरी ठाकुर को आवास जाने के लिए 'जीप' दे दीजिए, अध्यक्ष को जवाब मिला- जीप में तेल नहीं, JDU बोली- लालू ने हमेशा जननायक का अपमान किया

PATNA: जेडीयू ने लालू प्रसाद पर बड़ा हमला बोला है. राजद सुप्रीमो पर तंज कसते हुए जेडीयू ने कहा है कि वह जननायक कर्पूरी ठाकुर को हमेशा अपमानित किया करते थे. पार्टी ने कहा है कि एक दफे विधानसभा अध्यक्ष के कहने पर भी लालू यादव ने जनजनायक को आवास पर भोजन करने जाने के लिए जीप नहीं दिया था। जबकि आसन से अध्यक्ष ने पुर्जा लिखकर जीप देने का अनुरोध किया था। लेकिन इन्होंने जीप देने से इंकार कर दिया था।  

हमारे जीप में तेल नहीं,हम नहीं देंगे गाड़ी

जीप चलाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जेडीयू प्रवक्ता अरविंद निषाद ने कहा कि बिहार विधानसभा की कार्यवाही चल रही थी. उस समय जननायक विपक्ष के नेता हुआ करते थे. विस सत्र के दौरान शिवनंदन पासवान सदन की अध्यक्षता कर रहे थे. दोपहर में भूख लगने पर जननायक कर्पूरी ठाकुर ने शिव नंदन पासवान से पैरवी करते हुए कहा था कि लालू यादव को अपनी गाड़ी देने के लिए कहें. शिव नंदन पासवान ने अपनी सीट से ही एक नोट लिखा. जिस पर लिखा.... लालू जी कर्पूरी जी को भोजन के लिए आवास पर जाना है. आप अपनी जीप दे दीजिए. लालू ने उसी नोट पर लिखा- शिव नंदन पासवान जी मेरी जीप में तेल नहीं है. कर्पूरी जी दो बार मुख्यमंत्री रहे हैं अपनी कार क्यों नहीं खरीद लेते? 

 जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि उस समय कर्पूरी ठाकुर और लालू यादव दोनों ही लोकदल में थे. यह नोट पढ़कर शिवनंदन पासवान को गहरा धक्का लगा. अरविंद निषाद ने कहा कि लालू प्रसाद यादव जननायक कर्पूरी ठाकुर को अपनी जीप देने से मना कर दिया था और अब कह रहे कि इसी गाड़ी में बैठकर कर्पूरी ठाकुर को वे घूमाते थे। लालू प्रसाद आदतन उन्हें अपमानित करते थे. इतना ही नहीं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद दलित समाज से आने वाले तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष शिव नंदन पासवान के कहने पर जननायक को गाड़ी देने से इनकार कर दिया था क्योंकि वह दलित समाज से आते थे. जेडीयू प्रवक्ता ने आरोप लगाते हुए कहा किलालू यादव अपने संपूर्ण जीवन काल में दलितों एवं अति पिछड़ा समाज का अपमान किया है। 

Find Us on Facebook

Trending News