बड़े हादसे में इन्तजार में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, 60 फीट के जलमीनार पर बिना सुरक्षा किट के काम करते हैं मजदूर

बड़े हादसे में इन्तजार में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, 60 फीट के जलमीनार पर बिना सुरक्षा किट के काम करते हैं मजदूर

BETTIAH : जिले में करोड़ों की लागत से बन रहे जलमीनार में सुरक्षा मानकों को ताकपर रखकर अभियंताओं की मौजूदगी में संवेदक द्वारा मजदूरों और कर्मियों से बिना सुरक्षा किट के काम कराये जा रहे हैं. मजदूर और कर्मी तकरीबन60फिट ऊपर बिना ग्लव्स, हेलमेट और सेफ्टी बेल्ट बांधे जान जोख़िम में डालकर कार्य कर रहे हैं. 

स्थानीय समाजसेवी राकेश कुमार सिंह का कहना है कि जलमीनार का कार्य करा रहे अधिकारियों को सुरक्षा मानकों का ख्याल रखना चाहिए. मौके पर मौजूद अभियंताओं से जब हमारे संवाददाता ने इस तरफ ध्यान आकृष्ट कराते हुए सवाल पूछा तो जनाब सफाई देने में लगे रहे और बताया कि सेफ्टी बेल्ट और हेलमेट का पूरा ध्यान रखा जाता है. सभी मजदूर व कर्मी नियमों का पालन करते हैं. लेकिन जब कर्मियों से बात की गई तो उन्हें सुरक्षा मानकों और इसके इंतजामात की कोई जानकारी तक नहीं है. 

बता दें कि बगहा अनुमंडल कार्यालय और प्रखण्ड कार्यालय के समीप बन रहे जलमीनार में सुरक्षा मानकों का बिल्कुल भी ध्यान नही रखा जा रहा है. यहां संवेदक, विभाग और अभियंता अपनी मर्ज़ी के नियम कानून चला रहे हैं, जो किसी बड़े हादसे को न्योता दे रहा है और स्थानीय प्रशासन समेत विभाग मामले पर मूकदर्शक बना हुआ है. अब सवाल उठता है कि क्या PHED विभाग और स्थानीय प्रशासन को किसी हादसे का इंतजार है या किसी अनहोनी का. इसके बाद यहां कर्मी सेफ्टी बेल्ट और हेलमेट का इस्तेमाल करेंगे. इसका माकुल जवाब भी अधिकारियों के पास नहीं है. 

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News