हेमंत सोरेन को छोड़नी होगी मुख्यमंत्री की कुर्सी ! चुनाव आयोग ने विधानसभा सदस्यता रद्द करने पर ले लिया फैसला

हेमंत सोरेन को छोड़नी होगी मुख्यमंत्री की कुर्सी ! चुनाव आयोग ने विधानसभा सदस्यता रद्द करने पर ले लिया फैसला

रांची. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को मुख्यमंत्री की कुर्सी छोडनी पड़ सकती है. सूत्रों के अनुसार चुनाव आयोग ने विधानसभा सदस्यता रद्द करने पर फैसला ले लिया है और उन्हें अयोग्य करार दे दिया है. सोरेन से जुड़ा यह मामला खनन घोटाले का है. इसमें उन पर पत्थर खनन टेंडर खुद की कंपनी को देने के आरोप लगा था. एक तरह से यह पद का दुरूपयोग और खुद को लाभ पहुँचाने से जुड़ा मामला था. इसी में उनके खिलाफ चुनाव् आयोग ने आरोपों को सही माना है और उनकी सदस्यता रद्द करने पर निर्णय ले लिया है. 

चुनाव आयोग ने एक रिपोर्ट झारखंड के राज्यपाल को भी भेज दिया है. राज्यपाल के निर्णय के बाद किसी भी वक्त अब सोरेन को सीएम पद छोड़ना पड़ सकता है. झारखंड के राज्यपाल फ़िलहाल रांची में नहीं है. वे दोपहर 2 बजे रांची पहुंच सकते हैं. उसके बाद सोरेन के भविष्य पर बड़ा निर्णय होगा. हालांकि अभी चुनाव आयोग ने उनकी विधान सभा सदस्यता रद्द करने संबधी निर्णय पर कोई सार्वजनिक घोषणा नहीं की है. 

ऐसे में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जल्द ही अपना पद छोड़ सकते हैं. वे अपनी जगह अब पत्नी को मुख्यमंत्री बनवा सकते हैं. पिछले शनिवार को इसे लेकर एक बैठक भी हुई थी. वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दावा किया कि हेमंत सोरेन की पत्नी को प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपने की तैयारी की जा रही है. 

भाजपा नेता निशिकांत दुबे ने कहा कि झारखंड में भाभी जी के ताजपोशी की तैयारी, परिवारवादी पार्टी का बेहतरीन नुस्ख़ा गरीब के लिए. माना जा रहा है कि हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन अगर विपरीत परिस्थिति बनी तो राज्य की कमान संभाल सकती हैं.


Find Us on Facebook

Trending News