हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का चुनाव चिन्ह जब्त, कप-प्लेट होगा नया चुनावी निशान!

 हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का चुनाव चिन्ह जब्त, कप-प्लेट होगा नया चुनावी निशान!

DESK: बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार जीतनराम मांझी का चुनाव चिन्ह बदला नजर आएगा. निर्वाचन आयोग  ने नियमों के मुताबिक जरूरी वोट नहीं मिलने पर हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के चुनाव चिन्ह टेलीफोन को जब्त कर लिया है. आयोग के नियमों के मुताबिक अगर किसी चुनाव में चार प्रतिशत वोट या दो सीटें नहीं मिलती हैं तो उस राजनीतिक पार्टी का चुनाव चिन्ह खत्म कर दिया जाता है. इसके बाद यह चुनाव चिन्ह किसी दूसरे पार्टी को दिया जा सकता है.

इस लिहाज से जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रदर्शन को अगर पिछले चुनाव में देखा जाए तो न तो उन्हें दो सीटें मिलीं और ना ही चार प्रतिशत मतदान. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा को पिछले चुनाव में महज 2.3 से तीन प्रतिशत ही मत मिले थे जिसके कारण उन्हें अपना चुनाव चिन्ह खोना पड़ा.

बताया जा रहा है कि जीतनराम मांझी ने चुनाव आयोग से नयी चुनाव चिन्ह मांगी है. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने कप-प्लेट चुनाव चिन्ह मांगी है ताकि इसी चुनावी निशान पर वो आगामी बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ सके. पार्टी के प्रमुख जीतन राम मांझी ने बताया कि हमारी बदकिस्मती रही कि पिछले चुनाव में जरूरत के मुताबिक वैसा प्रदर्शन नहीं कर सके जिससे कि चुनाव चिन्ह बच सके. 

जीतन मांझी ने यह भी कहा टेलीफोन चुनाव चिन्ह के कारण हमारे ग्रामीण मतदाताओं में थोड़ी उलझन थी. इस चुनाव चिन्ह को समझने में ग्रामीण लोगों को परेशानी हो रही थी इसलिए नया चुनाव चिन्ह मिलने से लोगों को हमें समझने में आसानी होगी.

Find Us on Facebook

Trending News