पति की बेरोजगारी ने कर दिया दंपती को आत्महत्या पर मजबूर, एक ही चिता पर जली पति-पत्नी की लाश

पति की बेरोजगारी ने कर दिया दंपती को आत्महत्या पर मजबूर, एक ही चिता पर जली पति-पत्नी की लाश

SASARAM : रोहतास जिले के करगहर थाना क्षेत्र में एक दंपती के द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। मरनेवाले दंपती की पहचान थाना क्षेत्र के बभनी बाजार निवासी ओम प्रकाश पांडेय और उनकी पत्नी सलोनी कुमारी (22 वर्ष) के रूप में की गई है। मौत के बाद दोनों का एक ही चिता पर दाह-संस्कार कर दिया गया।

गांव वालों ने बताया कि पिछले साल अप्रैल माह में ओम प्रकाश पांडे की शादी शिवसागर थाना क्षेत्र के मदैनी गांव की रहने वाली सलोनी के साथ हुई थी। वह गांव में ही रह कर थोड़ी बहुत खेती-बाड़ी का काम करता था। लेकिन उसकी माली हालत बहुत अच्छी नहीं थी, जिसके कारण बेरोजगारी को लेकर वह डिप्रेशन में भी रहता था। वहीं, पत्नी भी बेरोजगार लड़के से शादी को लेकर नाखुश थी और वह इस बात को लेकर नाराज भी थी। इसी वजह से वह भी मेंटल स्ट्रेस में चल रही थी।

पहले पत्नी की खिलाया जहर, फिर खुद दी जान

आर्थिक तंगी और बेरोजगारी से परेशान होकर ओम प्रकाश ने बड़ा फैसला कर लिया। उसने शुक्रवार रात ओम प्रकाश पांडे ने सबसे पहले अपनी पत्नी को जबरदस्ती जहर दिया, उसके बाद खुद जहर खा लिया। इस दौरान पहले पत्नी की मौत हो गई। उसके 1 घंटे बाद पति की मौत हो गई। परिजन जानकारी मिलते ही तुरंत सासाराम स्थित निजी क्लिनिक में ले गए, जहां दोनों को मृत बता दिया गया। मामले में जब पुलिस ने दोनों के परिवार से पूछताछ की तो उन्होंने जहर सेवन की बात से इनकार किया है। उन्होंने मौत का कारण बीमारी को बताया है।

एक ही चिता पर जले दोनों

आर्थिक तंगी के कारण भले ही दोनों को लंबा वैवाहिक जीवन जीने का मौका नहीं मिला, लेकिन मरने के बाद दोनों को एक ही चिता नसीब हुई। लड़की पक्ष और लड़के पक्ष के परिजनों ने दोनों का दाह-संस्कार शनिवार सुबह कर दिया। इस हादसे के बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा है।



Find Us on Facebook

Trending News