IAS अधिकारी के आगे पटना पुलिस का सरेंडर, केस दर्ज करने में कांप रहे हाथ

IAS अधिकारी के आगे पटना पुलिस का सरेंडर, केस दर्ज करने में कांप रहे हाथ

पटनाः आम लोगों पर वर्दी का हनक दिखाने वाली पटना पुलिस एक आईएएस अधिकारी के सामने सरेंडर कर गई है।पटना पुलिस की सारी हेंकडी एक आईएएस अधिकारी के सामने फेल कर गई है।

तभी तो 48 घंटे बीतने के बाद भी पटना पुलिस आईएएस अधिकारी के खिलाफ केस दर्ज नहीं कर सकी है।आवेदन राजधानी के सचिवालय थाने में पड़ा है लेकिन पुलिस के आलाधिकारी जांच की बात कह मामले को पल्ला झाड़ने के फिराक में हैं।

पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी ने कहा कि अभी तक ठेकेदार के आवेदन पर जांच चल रही है।केस दर्ज नहीं किया जा सका है।उन्होंने बताया कि सीनियर अधिकारी के इंस्ट्रक्शन के अनुसार ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

क्या है मामला

ठेकेदार कुमुद राज ने 23 जुलाई को सचिवालय थाना में दिए आवेदन में आरोप लगाया था कि  उनकी कंपनी शकुन्तला इन्फ्रास्ट्रक्चर को लघु सिंचाई विभाग की ओर से नालंदा में आहर पईन के साथ ह्युम पाइप पुलिया के निर्माण का काम मिला है.उन्होंने कहा है की कार्य पूरा होने के बाद विभाग से पैसे के भुगतान की मांग की गयी. इसी बीच कार्य का कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया. कंपनी से इस क्षतिग्रस्त काम को पूरा करने का निर्देश दिया गया. आवेदन में ठेकेदार ने कहा है की इसी बीच उन्हें विभाग के प्रधान सचिव के.के. पाठक के चेंबर में बुलाया गया.अपने चेंबर में बुलाकर आईएएस अधिकारी ने उनके साथ मारपीट की. आवेदन के माध्यम से ठेकेदार ने आईएएस अधिकारी पर कार्रवाई करने की मांग की है।लेकिन आवेदन दिए 48 घंटे हो गए लेकिन आम आदमी पर डिंग हांकने वाली पटना पुलिस इस मामले पर चुप है।

Find Us on Facebook

Trending News