IAS पूजा सिंघल सस्पेंड, करोड़ों रुपए के घोटाले में ईडी की कार्रवाई के बाद झारखंड सरकार ने दिया बड़ा झटका

IAS पूजा सिंघल सस्पेंड, करोड़ों रुपए के घोटाले में ईडी की कार्रवाई के बाद झारखंड सरकार ने दिया बड़ा झटका

रांची. मनरेगा से जुडी करोड़ों रुपए की वित्तीय अनियमितता में आरोपित आईएएस पूजा सिंघल को झारखंड सरकार ने बड़ा झटका दिया है. राहत सरकार ने गुरुवार को पूजा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया. कार्मिक विभाग ने पूजा के निलम्बन  की अधिसूचना जारी की. 

प्रवर्त्तन निदेशालय ने मनरेगा से जुड़े मामलों को लेकर आईएएस पूजा सिंघल और उनके पति अभिषेक झा सहित अन्य करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी की थी. इसमें पूजा के सीए के पास से करीब 20 करोड़ रुपए नकदी बरामद हुई थी जबकि 300 करोड़ रुपए की संपत्ति का खुलासा हुआ था. दो दिनों तक ईडी ने आईएएस पूजा से पूछताछ की और बुधवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया. पूजा अब ५ दिनों की रिमांड पर हैं. 

इस बीच गुरुवार को झारखंड सरकार ने भी बड़ा फैसला लिया और पूजा को निलंबित कर दिया गया. कहा जा रहा है कि पूजा को पद से बर्खास्त भी किया जा सकता है. मात्र 21 साल 7 दिन में सबसे कम उम्र में IAS अफसर बनने वाली पूजा का 22 सालों का करियर काफी विवादों में रहा है. उन पर कई बार घोटाले के आरोप लग चुके हैं. 

वह 2000 बैच की अधिकारी हैं. कम उम्र में यह मुकाम पाने के बाद पूजा सिंघल का नाम 'लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स' में भी दर्ज किया गया था. वैसे तो पूजा कई बार सुर्खियों में रहीं लेकिन पहली बार वो तब चर्चा में आईं जब वे चतरा में बतौर DC तैनात थीं. तब उनकी मोबाइल से सीनियर अफसरों को कई हैरानी भरे मैसेज भेजे गए. अगले दिन उन्होंने जहर खा लिया और फिर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. बाद में मीडिया में इसको लेकर तरह-तरह की बातें हुईं लेकिन बाद में मामला शांत हो गया. 

इस बीच, झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार बनने के बाद आईएएस पूजा को राज्य के सबसे अहम विभाग खदान, उद्योग का जिम्मा दिया गया. इस बीच पूजा के मनरेगा से जुड़े अनियमितता के मामले प्रकाश में आये और प्रवर्त्तन निदेशालय ने उनके 25 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की. 


Find Us on Facebook

Trending News