जरा कैमूर के आइसक्रीम फैक्ट्री वालों का दर्द सुनिए, लोन लेकर की थी शुरुआत, लॉक डाउन की वजह से पड़ा ठंडा

जरा कैमूर के आइसक्रीम फैक्ट्री वालों का दर्द सुनिए, लोन लेकर की थी शुरुआत, लॉक डाउन की वजह से पड़ा ठंडा

KAIMUR : कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण सरकार द्वारा होली के बाद से ही राज्य में लॉकडाउन लगा दिया गया. जिसके बाद कैमूर जिले के आइसक्रीम बेचने वाले दो दर्जन से अधिक लोग आज बेरोजगार हो गए हैं. उनकी माली हालत इतनी खराब हो गई है की वे कैसे अपना घर का खर्चा चलाएं और बिजली बिल और रूम का रेंट कहां से लाएं. 

उधर आइस क्रीम फैक्ट्री के मालिक गौरव बताते हैं की लॉकडाउन से पहले आइसक्रीम बनाने के लिए लाखों रुपए की सामग्री खरीद कर लायी गई थी. पता नहीं था कि लॉक डाउन होगा. अचानक से हुए लॉकडाउन से पहले के मंगाए गए बहुत सामान एक्सपायर हो गए हैं. वही तैयार आइसक्रीम भी अब बेकार हो गया है. हम लोग की माली हालत बहुत खराब हो रही है. 

बैंक से कर्ज लेकर आइसक्रीम फैक्ट्री लगाया था. न तो बिजली बिल दे पाए हैं और ना ही बैंक का कर्ज चुका रहे हैं. सरकार हम लोगों का कुछ प्रबंध करे. जिससे कि हम लोग की हालत सुधर पाए. वहीँ मन्ना बताते हैं की इस आइसक्रीम फैक्ट्री पर 10 परिवार जीते थे. लेकिन पिछले 5 महीने से काम बंद हो गया है. रोजी-रोटी पर आफत आ गई है. 

हम लोगों का राशन कार्ड भी नहीं बना है कि हम लोग खा सकें. हम लोगों का सरकार के तरफ से कुछ व्यवस्था होना चाहिए. जिससे कि परिवार का खर्च चलाया जा सके.

कैमूर से देवब्रत की रिपोर्ट 



Find Us on Facebook

Trending News