जमुई : जेल में बंद कैदी की बिगड़ी तबियत, इलाज के दौरान हुई मौत

जमुई : जेल में बंद कैदी की बिगड़ी तबियत, इलाज के दौरान हुई मौत

JAMUI : डेढ़ माह से जेल में बंद एक कैदी की तबीयत बिगड़ने के बाद उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां गुरुवार की अहले सुबह सदर अस्पताल स्थित कैदी हाजत में  इलाज के दौरान कैदी की मौत हो गई। मृतक कैदी की पहचान झारखंड के कोडरमा निवासी प्रमोद कुमार सुमन के रूप में हुई है। प्रमोद कुमार सुमन फिलहाल 10 वर्षों से सिमुलतला में रह रहे थे और  कौशल विकास योजना में काम करते थे। चेक बाउंस के एक मामले में तकरीबन डेढ़ माह से जमुई जेल में बंद थे। जहां उनको 5 दिनों से बुखार और छाती में दर्द की शिकायत थी। 

उसके बाद जेल के डॉक्टर द्वारा उसे इलाज के लिए बुधवार की शाम सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्वजनों ने बताया कि कैदी की तबियत कई दिनों से बिगड़ी हुई थी. लेकिन जेल प्रशासन लापरवाह बनी रही. कई बार जेल प्रशासन से बात करने की कोशिश भी की गई. लेकिन बात नहीं हो सका। जब उनकी तबियत गंभीर हो गई. तब उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्वजनों ने बताया कि सदर अस्पताल के चिकित्सक द्वारा रेफर करने के बावजूद उसे पटना नहीं ले जाया गया। जिससे उनकी सदर अस्पताल स्थित कैदी हाजत में ही मौत हो गई। इधर प्रमोद कुमार सुमन की मौत के बाद स्वजनों में कोहराम मच गया। पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा था। मजिस्ट्रेट की निगरानी में डॉक्टरों की टीम द्वारा शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

हालाँकि अधिकारीयों ने बताया की कैदी की तबियत बिगड़ने के फौरन बाद उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जेल प्रशासन द्वारा किसी प्रकार की लापरवाही या इलाज में कोताही नहीं बरती गई है। जेल के चिकित्सक द्वारा भी इलाज किया जा रहा था। प्रक्रिया के तहत पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन के हवाले कर दिया जाएगा।

जमुई से राकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News