16 सेकेंड में गंगा की गहराइयों में विलिन हो गया मेहनत से तैयार किया गया आशियाना, इलाके में ऐसे 50 परिवार की यही कहानी

16 सेकेंड में गंगा की गहराइयों में विलिन हो गया मेहनत से तैयार किया गया आशियाना, इलाके में ऐसे 50 परिवार की यही कहानी

BHAGALPUR : सिर्फ 16 सेकेंड और आंखों के सामने मेहनत से तैयार किया घर गंगा नदी की गहराइयों में गुम हो गया।  भागलपुर जिला के सबौर प्रखंड के फरका पंचायत स्थित वार्ड नंबर 8 इंग्लिश में इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं  है। जब गंगा नदी के कटाव में लोगों को अपने घर गंवाने पड़े हैं। गुरुवार को गंगा कटाव तेज होने के कारण दो पक्के मकान गंगा में समा गए। हालांकि दोनों मकान के खिड़की दरवाजे सहित अन्य सामग्री पीड़ितों ने पहले ही निकाल लिया था। 

स्कूल, आंगनबाड़ी, खेत, सड़क सब पहले ही खत्म

गंगा के जलस्तर स्थिर है। फरका पंचायत के मुखिया राजेद्र प्रसाद मंडल ने कहा कि इंग्लिश गांव में लगभग अब तक 50 से अधिक घर गंगा में समा चुके हैं। एक सौ से अधिक मकान कटाव की जद में हैं। इसके अलावा स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, जल मीनार, ग्रामीण सड़क नाला भी गंगा कटाव की भेंट चढ़ चुकी है। 

आपदा प्रबंधन मंत्री को बाबूपुर से लेकर शंकरपुर तक गंगा कटाव से बचाव के लिए बोल्डर पीचिंग या रिंग बांध निर्माण करवाने और कटाव पीड़ितों को उचित मुआवजा देकर पुनर्वास कराने की मांग को लेकर ज्ञापन आवेदन भी दिया है। 

देंगे मुआवजा

गुरुवार को इंग्लिश निवासी कुलभूषण यादव और चंद्र भूषण यादव का मकान गंगा में समा गया। इस संबंध में सीओ अजीत कुमार झा ने कहा कि कटाव पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News