गया में महिला मुखिया ने अंपनी गाड़ी देकर पंचायत को किया होम डिलीवरी मुक्त, डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

गया में महिला मुखिया ने अंपनी गाड़ी देकर पंचायत को किया होम डिलीवरी मुक्त, डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

GAYA : जिले के टनकुप्पा प्रखंड के भेटौरा पंचायत के मुखिया अनीता देवी को जिला पदाधिकारी डॉ0 त्यागराजन एस0एम0  एवं सिविल सर्जन के द्वारा संस्थागत प्रसव में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान जिला कार्यक्रम प्रबंधक जिला स्वास्थ्य समिति नीलेश कुमार के द्वारा पंचायत के उपलब्धियों के बारे में उपस्थित सभी पदाधिकारी को अवगत कराया गया एवं  मुखिया के द्वारा जिला पदाधिकारी को जानकारी देते हुए बताया गया कि रेलवे क्रॉसिंग नहीं रहने के कारण एम्बुलेंस को  भेटौरा पंचायत आने में 40 से 45 किलोमीटर दूरी तय करना पड़ता था।  इसलिए ज्यादा प्रसव घर पर ही हो जाता था। जिसके कारण लोग अस्पताल जाने में रुचि कम लेने लगे थे। 


इस दौरान पिरामल फाउंडेशन के नीरज के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि भेटौरा पंचायत में 15 से 18 प्रसव घर पर ही हो जाता है। तब हमलोगों ने ग्राम सभा में फैसला लिए की घर पर हो रहे प्रसव जैसी कुप्रथा को खत्म करेंगे। इसके लिए अपनी निजी वाहन को गर्भवती महिलाओं को अस्पताल पहुचाने  के लिए समर्पित कर दिया। पिछले 5 महीने में 100 से ज्यादा गर्भवती महिलाओं को अब तक सरकारी अस्पताल प्रसव कराया जा चुका है। इसके लिए सभी आशा, सेविका, जीविका के साथ मासिक बैठक कर इसकी समीक्षा किया जाने लगा। 

बैठक में गर्भवती महिलाओं के अभिभावकों को बुलाकर उनकी समस्या को सुना गया एवं उनको मुखिया के तरफ से आश्वाशन पत्र देकर बताया गया कि किसी भी समय जरूरत हो तो दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर के मदद ले सकते हैं। देखते देखते जिस पंचायत में 15 से 18 गर्भवती महिलाओं का प्रसव घर पर होता था वो अब एका दुक्का ही प्रसव घर पर हो रहा है जिसको भी दूर करने के लिए लगातार प्रयास जारी है। सिविल सर्जन गया द्वारा बताया गया कि इस तरह की मानवीय पहल के लिए बहुत आभार प्रकट करते हैं जो लोगों की सेवा के लिए अपनी गाड़ी तक दे दिया। मुखिया के द्वारा धन्यवाद सह ज्ञापन पत्र देकर जिला पदाधिकारी से रेलवे क्रॉसिंग एवं शिक्षा, स्वास्थ्य जैसी प्रमुख समस्याओं को निदान करने हेतु ज्ञापन सौंपा गया। 

इस पर जिला पदाधिकारी द्वारा आश्वाशन देते हुए रेलवे क्रासिंग की समस्या को रेलवे विभाग को पत्र लिखकर दूर करने के लिए कहा गया। जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि इस प्रकार का पहल बहुत ही सराहनीय है इससे और भी जनप्रतिनिधियों को सीखना चाहिए। अगर इस प्रकार सभी जनप्रतिनिधिअपने पंचायत में लोगों की मदद करने लगें तो योजनाओं को लोगों के बीच पहुँचाना और भी आसान हो जाता है। इसके पश्चात जिला पदाधिकारी द्वारा मुखिया के निजी वाहन को जाकर देखा गया। उन्होंने प्रशंसा किया कि काफी अच्छी पहल है कि अपने निजी वाहन को, इस कार्य में लगाया है। कार्यक्रम के दौरान यूनिसेफ से संजय कुमार, टनकुप्पा प्रखंड प्रमुख, उपमुखिया, समाजसेवी, पूर्व जिला परिषद, वार्ड सदस्य आदि उपस्थित रही।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News