CM की समाधान यात्रा है या सुशासन का शो ? जाने से पहले गांव को करवाया चकाचक, फिर उसे देख 'नीतीश' खुद हो रहे भौंचक, गजब का है खेल...

CM की समाधान यात्रा है या सुशासन का शो ? जाने से पहले गांव को करवाया चकाचक, फिर उसे देख 'नीतीश' खुद हो रहे भौंचक, गजब का है खेल...

PATNA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज से समाधान यात्रा पर हैं. वाल्मीकि नगर से नीतीश कुमार ने अपनी इस यात्रा की शुरूआत की है। सीएम नीतीश गांव में जाकर पूर्व से तैयार चकाचक योजनाओं को देख कर खूब खुश हो रहे हैं। खुश हों भी क्यों नहीं,आने से पहले अफसरों ने खूब मिहनत जो की थी। दरअसल, नीतीश कुमार की इस यात्रा को लेकर प्रशासन ने काफी पहले से तैयारी शुरू की थी। जिस गांव में मुख्यमंत्री को जाना था वहां कई दिनों से काम चल रहा था। इलाके को पूरी तरह से चकाचक कर दिया गया था। फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उस गांव में गए और कहा कि बहुत बढ़िया काम हुआ है। यानि अपनी पीठ को खुद थपथपाने लगे. वैसे सीएम नीतीश की यात्रा के स्वरूप पर पूर्व सीएम जीतनराम मांझी पहले ही सवाल खड़े कर चुके हैं. उनका कहना है कि नीतीश कुमार अफसरों की बात पर न रहें. उन्हें अचानक किसी गांव का दौरा करनी चाहिए,ताकि सच्चाई का पता चल सके. 

नीतीश के आने से पहले गांव को कराया गया चकाचक 

मुख्यमंत्री आज सुबह  बगहा प्रखंड-2 के अंतर्गत सोहरिया पंचायत के दरूआबारी ग्राम पहुंचे। वहां जाकर भ्रमण किया और योजनाओं को देखा. देखकर मुख्य़मंत्री नीतीश कुमार काफी खुश हुए। खुशी से इतने गदगद हो गये कि कहने लगे कि बहुत अच्छा काम हुआ है। अपनी खुशी को उन्होंने मीडिया के सामने सार्वजनिक भी किया और कहा कि जमीनी स्तर पर बहुत अच्छा काम हुआ है। दरअसल, जिस जगह का नीतीश कुमार गुणगान कर रहे थे वहां पर पिछले कई हफ्तों से काम जारी था. सरकार की तरफ से स्थानीय प्रशासन को पहले ही बता दिया गया था। लिहाजा प्रशासन ने सरकार को खुश करने की कोई कसर नहीं छोड़ी। नीतीश कुमार उसी जगह पर गए जहां पहले से पूरी तैयारी थी। वहां जाकर योजनाओं को देखा और गदगद होकर चले आये. वे कहने लगे कि बहुत बढ़िया काम हुआ है. शायद वे यह बताने की कोशिश कर रहे थे कि सभी गांव ऐसे ही चकाचक होंगे और सरकारी की सारी योजनाओं पूरी तरह से पूर्ण होंगी। 

काम करवाने के बाद नीतीश गए गांव 

बगहा में सरकारी योजनाओं के निरीक्षण के बाद सीएम नीतीश कुमार मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि आज विभिन्न जगहों पर जाकर देखे हैं. पहले से कितना काम किया गया, काम में कोई बाधा तो नहीं आई? काम पूरा हुआ या नहीं, काम पूरा हो गया तो आगे और क्या होना चाहिए, इसी को देखने के लिए हम आए हैं. आज हम देख लिया.यहां देखकर संतुष्ट हुए. देख कर अच्छा लगा. हम जो काम कहे हुए हैं वह नहीं हुआ तो हम तुरंत अधिकारियों कह रहे कि क्यों देरी हो रहा है? मुख्यमंत्रई ने कहा कि एक समस्या था रास्ता बनाना था, वह रुका हुआ था . हमने तुरंत कहा है कि देखिए। नीतीश कुमार से पूछा गया कि जमीनी हकीकत क्या है? मुख्यमंत्री ने उत्तर दिया- सब ठीक है. सब हम कर रहे हैं. गरीब गुरबा तबका के लिए जो करना है वह कर रहे हैं. इशके बाद मुख्यमंत्री से पूछा गया कि आप जो यात्रा करते हैं वह प्रस्तावित रहता है. सारे अधिकारी पहले से ही सबकुछ ठीक कर देते हैं . उसके बाद आप आते हैं देखने, इस पर सीएम नीतीश ने कहा कि ऐसा नहीं है,सब जगह कर रहे हैं. एक जगह का मतलब नहीं है. हर जगह का देखना है. आज तो फिर हम बात करेंगे ना अधिकारियों के साथ. सारे अधिकारियों से बात करके एक एक चीज को देखने को कहेंगे. एक-डेढ़ महीना के बाद हम रिपोर्ट करेंगे और पूछेंगे कि क्या हुआ. हमारे साथ जो भी अधिकारी लोग हैं वह एक एक पॉइंट को नोट कर रहे हैं, ताकि कोई चीज छूटे नहीं.

बता दें, सीएम नीतीश आज सुबह बगहा प्रखंड-2 के अंतर्गत सोहरिया पंचायत के दरूआबारी ग्राम गए. वहां थरूहट  विकास अभिकरण के तहत वर्क शेड का शिलान्यास किया. सतत जीविकोपार्जन योजना के अंतर्गत कीट का वितरण किया. इसके बाद मुख्यमंत्री सोलर स्ट्रीट लाइट योजना, नल जल योजना का निरीक्षण किया. इसके साथ ही जल जीवन हरियाली योजना के अंतर्गत पोखरा के सौंदर्यीकरण कार्य का निरीक्षण किया. बगहा नगर परिषद के पारस नगर कटाव स्थल का निरीक्षण किया. 


 

Find Us on Facebook

Trending News