बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • पांच साल में कस्टडी रेप के दर्ज हुए 270 मामले, जानिए किस राज्य में सबसे ज्यादा हुआ हिरासत में बलात्कार
  • पांच साल में कस्टडी रेप के दर्ज हुए 270 मामले, जानिए किस राज्य में सबसे ज्यादा हुआ हिरासत

  • अभी बच्चा हैं तेजस्वी यादव, नेता प्रतिपक्ष पर डिप्टी सीएम का बड़ा हमला, खिलौनी से खेलने दीजिए
  • अभी बच्चा हैं तेजस्वी यादव, नेता प्रतिपक्ष पर डिप्टी सीएम का बड़ा हमला, खिलौनी से खेलने दीजिए

  • मुंगेर में दो युवकों से इश्क करना महिला को पड़ा महंगा, एक ने की दुसरे प्रेमी की दीवार से गिराकर हत्या, पुलिस ने दो को हिरासत में लिया
  • मुंगेर में दो युवकों से इश्क करना महिला को पड़ा महंगा, एक ने की दुसरे प्रेमी की दीवार

  • लोकसभा चुनाव के पहले लखीसराय में कई थानों के बदले गए थानाध्यक्ष, नव पदस्थापित पुलिस अधिकारियों की देखिए पूरी सूची
  • लोकसभा चुनाव के पहले लखीसराय में कई थानों के बदले गए थानाध्यक्ष, नव पदस्थापित पुलिस अधिकारियों की देखिए

  • मुजफ्फरपुर में तालाब से युवक का शव पुलिस ने किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप
  • मुजफ्फरपुर में तालाब से युवक का शव पुलिस ने किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप

  • हाजीपुर में कोचिंग जा रही छात्राओं से मनचलों की सरेराह छेड़खानी ! शोहदों की बाइक दुर्घटनाग्रस्त, पहुंचे अस्पताल
  • हाजीपुर में कोचिंग जा रही छात्राओं से मनचलों की सरेराह छेड़खानी ! शोहदों की बाइक दुर्घटनाग्रस्त, पहुंचे अस्पताल

  • आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर बेतिया में भाजपा कार्यालय की शुरुआत, पार्टी के वरिष्ठ नेता ने मंत्रोच्चार के साथ किया उद्घाटन
  • आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर बेतिया में भाजपा कार्यालय की शुरुआत, पार्टी के वरिष्ठ नेता ने मंत्रोच्चार के

  • बेगूसराय के सिमरिया में जानकी पैड़ी तो पटना के मोकामा में बनेगा रिवर फ्रंट, डिप्टी सीएम का बड़ा ऐलान
  • बेगूसराय के सिमरिया में जानकी पैड़ी तो पटना के मोकामा में बनेगा रिवर फ्रंट, डिप्टी सीएम का बड़ा

  • मुजफ्फरपुर में जल संसाधन विभाग की महिला इंजीनियर के मौत मामले में आया नया मोड़, परिजनों ने हत्या का लगाया आरोप
  • मुजफ्फरपुर में जल संसाधन विभाग की महिला इंजीनियर के मौत मामले में आया नया मोड़, परिजनों ने हत्या

  • पटना में बेखौफ अपराधियों का तांडव, रंगदारी नहीं देने पर उद्योगपति पर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां
  • पटना में बेखौफ अपराधियों का तांडव, रंगदारी नहीं देने पर उद्योगपति पर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां

नीतीश राज में पर्चा लीक न हो यह असंभव ! भद्द पिटने के बाद BSSC अध्यक्ष उतरे मैदान में, मोतिहारी जाकर की पूछताछ

नीतीश राज में पर्चा लीक न हो यह असंभव ! भद्द पिटने के बाद BSSC अध्यक्ष उतरे मैदान में, मोतिहारी जाकर की पूछताछ

MOTIHARI: सुशासन राज में प्रतियोगिता परीक्षाओं का पर्चा लीक होना अब सामान्य सी बात हो गई है। प्रतियोगिता परीक्षा का आयोजन हो और पर्चा लीक की खबर न आये ऐसा हो नहीं सकता। पर्चा लीक होने पर हर बार सीएम नीतीश की फजीहत होती है. भद्द पिटने के बाद जांच का दिखावा होता है, फिर आश्वासन दिया जाता है कि भविष्य में ऐसी घटना नहीं होगी. इसके बाद अगली परीक्षा में फिर से पर्चा आउट होता है। यह खेल लंबे अर्से से जारी है. अब बीएसएससी परीक्षा का प्रश्न पत्र आउट हुआ तो पुरा महकमा हरकत में है। आज बिहार कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष खुद जांच करने मैदान में उतर गये। 

भद्द पिटने के बाद BSSC अध्यक्ष उतरे मैदान में

बीएसएससी परीक्षा का पर्चा आउट होने के बाद बिहार कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष रविन्द्र कुमार आज मोतिहारी पहुंच गये। वे उस परीक्षा केंद्र पर गये जहां से पेपर लीक हुआ था. जानकारी के अनुसार वे शहर के शांति निकेतन स्कूल परीक्षा केंद्र पर जाकर केंद्र के अधीक्षक से लेकर मजिस्ट्रेट व अन्य कर्मियों से पूछताछ की और जानकारी हासिल की। हालांकि मीडिया को कोई जानकारी नहीं दी। 

बिहार कर्मचारी चयन आयोग की तृतीय स्नातक स्तरीय प्रारंभिक परीक्षा की पहली पाली में शुक्रवार सुबह आयोजित हो रही परीक्षा का पर्चा आउट हो गया। परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही प्रश्नपत्र मीडिया के पास आ गया.परीक्षा खत्म होने के बाद जब वायरल पेपर का मिलान किया गया तो वह हूबहू मिल गया। इसके बाद हड़कंप मच गया। आनन-फानन में जांच का जिम्मा आर्थिक अपराध इकाई को दी गई। आर्थिक अपराध इकाई (EOU) ने काफी हद तक सुलझा लिया है। मोतिहारी, सुपौल और पटना में कई जगहों पर छापेमारी हो चुकी है। ईओयू ने कहा है कि जिस परीक्षार्थी ने प्रश्न पत्र को आउट किया उसे सुपौल से गिरफ्तार कर लिया गया । साथ ही उसने अपने भाई के मोबाईल पर प्रश्नपत्र भेजा उसे भी गिरफ्तार किया गया है।  

6 साल पहले BSSC इंटर स्तरीय परीक्षा का पेपर हुआ था लीक

छह साल पहले BSSC (बिहार कर्मचारी चयन आयोग) इंटर स्तरीय परीक्षा का पेपर लीक हुआ था। इस मामले में तब के BSSC अध्यक्ष सुधीर कुमार, सचिव परमेश्वर राम, पेपर छापने वाले, प्रश्न पत्र सेट करने वाले से लेकर अध्यक्ष के कई परिजनों, IT मैनेजर समेत करीब तीन दर्जन को गिरफ्तार किया गया था। सुधीर करीब साढ़े तीन साल तक इस मामले में जेल में रहे थे। सुप्रीम कोर्ट से उन्हें 6 अक्टूबर 2020 को जमानत मिली थी। तब पेपर लीक होने पर सरकार की भारी फजीहत हुई थी. काफी बवेला मचने के बाद पटना एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में एसआईटी गठित की गई थी। एसआईटी ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार जो उस समय बीएसएससी के अध्यक्ष थे, उन्हें गिरफ्तार किया था। इसके अलावे बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारी (सचिव) परमेश्वर राम को गिरफ्तार किया गया था।