कन्हैया ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, देश में दो ही योजना ढंग से चली, पहली- पकौड़ा बनाओ, दूसरी- भगौड़ा भगाओ

कन्हैया ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, देश में दो ही योजना ढंग से चली, पहली- पकौड़ा बनाओ, दूसरी- भगौड़ा भगाओ

PATNA: बेगूसराय से लोकसभा उम्मीदवार कन्हैया ने पीएम मोदी पर तंज कहते हुए कहा कि देश में पीएम मोदी के कार्यकाल में दो ही योजनाएं देश में अच्छे से चली. पहली है युवाओं के लिए "पकौड़ा बनाओ" और दूसरी है धन्नासेठों के लिए "भगौड़ा भगाओ".

कन्हैया कुमार ने बेगूसराय के बसही, श्रीपुर खांजापुर, चेरिया बरियारपुर, शाहपुर, पबड़ा औऱ मंझौल में जनसंपर्क कार्यक्रमों के जरिए लोगों से संवाद स्थापित किया. उन्होंने युवाओं की बेरोजगारी की समस्या पर मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि मोदी जी ने पिछले पांच साल में दो ही योजनाएं ढंग से चलाई हैं, पहली है युवाओं के लिए "पकौड़ा बनाओ" और दूसरी है धन्नासेठों के लिए "भगौड़ा भगाओ". पिछले पांच साल में न केवल बहुत से धन्नासेठों का हजारों करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया गया है, बल्कि जनता को बड़ी कंपनियों के उन मालिकों का नाम बताने से भी मना कर दिया गया जिन्होंने बैंकों का अरबों रुपये का कर्ज नहीं चुकाया है. ऐसा क्यों होता है कि देश का किसान कर्ज नहीं चुका पाने के बाद प्रधानमंत्री की योजनाओं को अपनी दुर्दशा का कारण बताते हुए आत्महत्या कर लेता है और इसका देश की राजनीति पर कोई खास असर नहीं पड़ता? जब तक राजनीति में किसान-मजदूरों के मुद्दों की अनदेखी होती रहेगी, तब तक देश में लोकतंत्र कमजोर बना रहेगा.

कन्हैया ने बेगूसराय में पुल, सड़क आदि बनाने के काम की अनदेखी करने वाले नेताओं को यहां की जनता की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार बताया. उन्होंने कहा कि बेगूसराय को अलग प्रमंडल में बदलने और यहां कर कार्यालय की स्थापना करने जैसी महत्वपूर्ण मांगों को मनवाने के लिए सरकार पर दबाव बनाने की जरूरत है. जनता को चांद-तारे देने का वादा करने वाले नेता अभी तक बेगूसराय में जहरीले आर्सेनिक के पानी में मिलने की समस्या पर ध्यान देने का समय नहीं निकाल सके. जिन नेताओं पर भ्रष्टाचार के कई मामले दर्ज हैं, उनसे इन समस्याओं को दूर करने की उम्मीद नहीं की जा सकती. 



Find Us on Facebook

Trending News