कपड़े के अन्दर हाथ डाल देता था, कहता था आओ लेता हूं सब्र का इम्तिहान

कपड़े के अन्दर हाथ डाल देता था, कहता था आओ लेता हूं सब्र का इम्तिहान

डेस्क...इंसान रूपी दानव आप को कहीं भी मिल सकते है खबर झारखण्ड से है जहां नर्सिंग की छात्राओं के 'सब्र' का इम्तिहान लेने के लिए उनसे छेड़छाड़ और यौन शोषण करने के आरोप में झारखंड के एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) के निदेशक को गिरफ्तार किया गया है.. आरोप है कि एनजीओ की ओर से राज्य के खूंटी जिले में चलाए जाने वाले नर्सिंग इंस्टिट्यूट की कई स्टूडेंट्स ने निदेशक पर यौन शोषण किए जाने का आरोप लगाया था.

 पीड़िताओं के मुताबिक, इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर बबलू उर्फ परवेज आलम छात्राओं के सब्र का इम्तिहान लेने को उन्हें पकड़ कर अपने हाथ उनके कपड़ों में डालता था.इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, आरोपी परवेज आलम पिछले काफी समय से नर्सिंग छात्राओं को अपना शिकार बनाता रहा है. परवेज आलम की करतूतों का खुलासा उस समय हुआ जब कुछ छात्राओं ने अपनी पीड़ा एक समाजिक कार्यकर्ता से शेयर की. 

छात्राओं की मौखिक शिकायत के आधार पर सोशल ऐक्टिविस्ट लक्ष्मी बखला ने इस संबंध में राज्यपाल को चिट्ठी लिखी.इसके बाद ब्लॉक डेवलेपमेंट ऑफिसर (बीडीओ) के अधीन जांच शुरू की गई और स्थानीय महिला थाने की एक टीम को भी इंस्टिट्यूट भेजा गया.जांच टीम ने अपनी रिपोर्ट खूंटी एसपी आशुतोष शेखर को भेज दी है और एनजीओ के डायरेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है. आप निदेशक है आप रोजगार देते है तो आप के खिलाफ कोई आवाज नहीं उठाएगा यही सोचा होगा उस हैवान ने लेकिन आज भी समाज में कुछ ऐसी लड़कियां है जो ऐसी नौकरी को लात मार देंगे पर अपने आबरू पर आंच नही आने देगी.


Find Us on Facebook

Trending News