पंचायत का बदल जाएगा जिला, इस डर से ग्रामीण कर रहे हैं विरोध, जानिए क्या है मामला

पंचायत का बदल जाएगा जिला, इस डर से ग्रामीण कर रहे हैं विरोध, जानिए क्या है मामला

बाढ़। मोकामा प्रखंड की कसहा दियारा पंचायत को बेगूसराय जिले में शामिल करने की सरकार की कवायद के खिलाफ ग्रामीणों का चरणबद्ध आंदोलन परवान चढ़ रहा है।आज बड़ी संख्या में कसहा दियारा के ग्रामीणों ने प्रखंड पर धरना-प्रदर्शन किया और नारेबाजी कर सरकार के निर्णय के खिलाफ आक्रोश जताया।सैकड़ों की संख्या में प्रखंड कार्यालय पहुंचे ग्रामीणों ने कसहा दियारा को बेगूसराय में शामिल करने की योजना की पुरजोर मुखालफत की और निर्णय वापसी तक आंदोलन जारी रखने का ऐलान किया। ग्रामीणों का कहना है कि कसहा दियारा पंचायत को पटना जिला से अलग नहीं होने दिया जाएगा। इस बावत ग्रामीणों में सरकार के निर्णय से काफी आक्रोश देखा जा  रहा है।


पटना छोड़कर नहीं जाएंगे

विरोध प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने बताया कि अभी कसहा दियारा मटिहानी प्रखंड में आता है, जो पटना जिला का हिस्सा है, लेकिन हमें जानकारी मिली है कि कसहा दियारा को अब बेगूसराय जिले में शामिल करने का प्रस्ताव दिया गया है। जिसके लिए यहां के लोगों से बात करना भी जरुरी नहीं समझा गया कि वह ऐसा चाहते हैं या नहीं। ग्रामीणों ने बताया कि अभी जिला मुख्यालय जाने के लिए 15 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है, अगर बेगूसराय में हमें शामिल किया गया तो यह दूरी 40 किलोमीटर हो जाएगी। जो हमें मंजूर नहीं है।

सरकार हमें दे भरोसा

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि जब तक हमें सरकार की तरफ से लिखित भरोसा नहीं दिया जाता है कि कसहा दियारा को पटना जिले से अलग नहीं किया जाएगा, तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा। इसके लिए हमें जो भी करना पड़े, हम पीछे नहीं हटेंगे। 


Find Us on Facebook

Trending News