किसान महासभा का तीनों कृषि कानून के खिलाफ अनिश्चिकालीन धरना शुरू

किसान महासभा का तीनों कृषि कानून के खिलाफ अनिश्चिकालीन धरना शुरू

दरभंगा... दरभंगा भाकपा माले से सम्बद्ध अखिल भारतीय किसान महासभा के जिला परिषद के नेतृत्व में समाहरणालय पर  दिन रात का धरना शुरू हुआ है धरना का नेतृत्व किसान महासभा के जिलाध्यक्ष शिवन यादव और सचिव प्रवीण यादव कर रहे हैं।धरनाथियों की मांगे हैं कि केंद्र सरकार की तीनों किसान विरोधी कानून, पराली जलाने पर दण्ड और विजली महंगी करने का विल वापस हो, न्यूनतम समर्थन मूल्य और सरकारी मंडी को कानूनी दर्जा दिया जाय, बाढ़ ओला वृष्टि से हुई फसल क्षति का मुआवजा,सभी बन्द मिल को चालू करने ,बाढ़ का स्थायी निदान करने, कैम्प लगाकर दाखिल खारिज करने की मांग है.

धरनास्थल पर शिवन यादव की अध्यक्षता में हुई सभा को सम्बोधित करते हुए माले के बरिष्ट नेता आर के सहनी ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों की जिंदगी को खुशहाल नहीं बल्कि बर्बाद करने वाला है.कॉरपोरेट खेती कॉरपोरेट को फायदा पहुंचाने वाला है. किसान और बटाईदारों को खेती में सरकार मदद करके और घाटा से छुटकारा दिला कर लाभ दिला सकती है.यह कृषक विकास का रास्ता है.

माले नेता सत्यनाराण मुखिया ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों को फसलउपजा और खेत दोनों छीन कर मजदूर बना देगा.किसान नेता जंगी यादव ने कहा कि तीनों कानून मुठ्ठीभर कॉरपोरेट को अमीर और व्यापक लोगों को गरीब और भुखमरी का शिकार बना देगा.

सभा को लक्ष्मी पासवान, हरि पासवान, देबेन्द्र कुमार, विश्वनाथ पासवान, अली मोहमद,.चानो देवी, कुमारी देवी, संझा देवी, शांति देवी, मुंशीजी यादव, सन्तोष सिंह, राम दयाल पासवान ने धरना को सम्बोधित किया.आज की धरना में सैकड़ों लोग शामिल थे.

Find Us on Facebook

Trending News