रालोसपा ने किसानों के भारत बंद का किया समर्थन, कहा किसान विरोधी है नया कृषि बिल

रालोसपा ने किसानों के भारत बंद का किया समर्थन, कहा किसान विरोधी है नया कृषि बिल

PATNA : राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) ने किसानों के बुलाए भारत बंद का समर्थन किया है. पार्टी ने दो दिन पहले ही प्रस्ताव पास कर किसानों के आंदोलन का समर्थन किया था. रालोसपा की दो दिवसीय समीक्षा बैठक में पार्टी अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने किसानों की मांगों का जायज बताया था और केंद्र सरकार की नीयत पर सवाल उठाते हुए किसान विरोधी कृषि कानूनों को तत्काल वापस लेने का प्रस्ताव पेश किया था, जिसे बैठक में पास किया गया था. 

रालोसपा के प्रदेश महासचिव व प्रवक्ता धीरज सिंह कुशवाहा ने कहा कि किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में 8 दिसंबर को भारत बंद का एलान किया है. रालोसपा इस बंद का समर्थन करती है. पार्टी किसानों की मांगों के साथ खड़ी है और जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार के किसान विरोधी रवैये के खिलाफ पार्टी नेता व कार्यकर्ता सड़क पर उतरेंगे. 

रालोसपा ने कहा कि केंद्र सरकार तीनों कानूनों को रद्द करे. ताकि देश के अन्नदाता कारपोरेट घराने के हाथों तबाह होने से बचें. धीरज ने बताया कि पार्टी का मानना है कि नया कृषि बिल किसान विरोधी है और इससे खेती-किसानी को खत्म कर इसे कारपोरेट घरानों के सौंपने की साजिश केंद्र सरकार रच रही है. रालोसपा इसका कड़े शब्दों में निंदा करती है. रालोसपा का मानना है कि केंद्र किसानों का दमन करने पर तुली है ताकि कारपोरेट घराने को फायदा पहुंचाया जा सके.


Find Us on Facebook

Trending News