आज अपना इलाज कराने सिंगापुर जा रहे हैं लालू प्रसाद, किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर अभी भी संस्पेंस कायम

आज अपना इलाज कराने सिंगापुर जा रहे हैं लालू प्रसाद, किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर अभी भी संस्पेंस कायम

 NEW DELHI : राजद की जिम्मेदारी फिर से संभालने के बाद आज लालू प्रसाद यादव अपना इलाज करवाने के लिए सिंगापुर जा रहे हैं। इस बात की पुष्टि उन्होंने खुद की। सोमवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में लालू यादव ने सब को संबोधित करते हुए यह कहा कि वह कल इलाज के लिए सिंगापुर जा रहे हैं। 

किडनी ट्रांसप्लांट पर चेकअप के बाद फैसला

अब लालू प्रसाद की सेहत पहले से काफी बेहतर है। इसलिए परिवार कोई रिस्क लिए बिना उन्हें सिंगापुर ले जाना चाहता है। सिंगापुर में डॉक्टर किडनी ट्रांसप्लांट करेंगे या अभी दवा ही देंगे यह वहीं तय होगा। चूंकि लालू प्रसाद लगभग एक दर्जन बीमारियों से ग्रस्त हैं इसलिए जब भी वे बीमार पड़ते हैं तो स्थिति गंभीर होने लगती है। शुगर और किडनी की बीमारी की वजह से ज्यादा परेशानी होती है।

बेटी रोहिणी आचार्या सिंगापुर में रहती हैं

लालू परिवार सिंगापुर के डॉक्टर के लगातार संपर्क में है। अभी स्थिति यह है कि उनकी किडनी इतनी खराब नहीं हुई है कि डायलिसिस करानी पड़े। इसलिए सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट हो ही यह जरूरी नहीं। डॉक्टर अभी उन्हें दवा पर भी रख सकते हैं। 

जानकारी है कि सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट वे इसलिए कराना चाहते हैं कि वहां का सक्सेस रेशियो काफी अच्छा है। किडना ट्रांसप्लांट का नियम भी वहां अलग है। इसके अलावा वहां उनकी देखभाल के लिए खुद लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्या भी मौजूद हैं, वह सिंगापुर में ही अपने इंजीनियर पति के साथ रहती हैं।

बता दें कि लालू प्रसाद किडनी की गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। इसे लेकर पासपोर्ट रिलीज की अनुमति मिल चुकी है। सीबीआई की विशेष अदालत में मामले को लेकर 16 सितंबर को सुनवाई हुई थी। जिसमें लालू यादव को सिंगापुर जाने की अनुमति मिल गई है।

नहीं जा पाएंगे मुलायम के अंतिम संस्कार में

उन्होंने इस दौरान यह भी जोड़ा कि वह मंगलवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार में नहीं जाएंगे। वहां तेजस्वी यादव जाएंगे और वह खुद इलाज के लिए सिंगापुर जा रहे हैं।

3 जुलाई को गिरने पर स्थिति काफी गंभीर हो गई थी

लालू यादव 3 जुलाई को पटना स्थिति राबड़ी देवी के आवास में कमरे की सीढ़ी पर गिर गए थे, तो सेहत काफी बिगड़ गई थी। उन्हें 4 जुलाई को पटना के पारस अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था और फिर एयर एंबुलेंस से 7 जुलाई को दिल्ली एम्स ले जाया गया था। उस समय उनके शुभचिंतक काफी डर गए थे।


Find Us on Facebook

Trending News