लालू यादव ने अपनी सियासत के लिए किया यादव जाति का इस्तेमाल, भाजपा के यदुवंशी सम्मेलन में नित्यानंद राय के निशाने पर राजद-तेजस्वी

लालू यादव ने अपनी सियासत के लिए किया यादव जाति का इस्तेमाल, भाजपा के यदुवंशी सम्मेलन में नित्यानंद राय के निशाने पर राजद-तेजस्वी

पटना. केंदीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों को कल्याण उसी तरह कर रहे हैं जिस प्रकार भगवान कृष्ण ने किया था. बिहार भाजपा द्वारा मंगलवार को आयोजित यदुवंशी सम्मेलन में बोलते हुए नित्यानंद राय ने बड़ी संख्या में आए यादवों को भाजपा ने स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि आपलोग हमारे साथ आइए और बिहार में बदलाव कीजिये. 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसे हुए उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ने यदुवंशी को ल्लज्जित करने का काम किया है. अगर तेजस्वी में हिम्मत होती तो वे नीतीश का साथ नहीं देते. वे महिलाओं का सम्मान करते. विधानसभा में सीएम नीतीश के सेफ सेक्स को लेकर दिए बयान पर कहा कि भगवान कृष्ण ने किसी को अपमानित करने का काम नहीं किया बल्कि हर समय में उन्होंने साथ दिया. लेकिन, अपने आप को यादव कहने वाले तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के महिला विरोधी बयान का समर्थन कर खुद को कलंकित किया है.

नित्यानंद राय ने नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा कि आप सिंहासन खाली कीजिए भाजपा की सरकार बिहार में बनने वाली है. उन्होंने कहा कि 15 वर्षो में लालू यादव ने यादवों में भय पैदा करने का काम किए. लेकिन इनकी सुरक्षा के लिए बीजेपी है. उन्होंने कहा कि अगर भाजपा नहीं होती तो लालू यादव पहली बार मुख्यमंत्री नहीं बनते. लेकिन जब लालू यादव जेल गए उस समय राबड़ी देवी को क्यों मुख्यमंत्री बनाया गया किसी और को क्यों नहीं उन्होंने बनाया. 

लालू पर तंज कसते हुए कहा कि राजद में कई काबिल नेता रहे. जंगदानन सिंह हों या यादवों के नेता सब लालू की पार्टी में थे लेकिन उनको सीएम नहीं बनाया. लालू पर यादवों से छल करने की बातें करते हुए कहा कि यादवों को उन्होंने हमेशा अंधेरे में रखा. लालू यादव के करण ही आज सबसे कम नौकरी में जिस जाति के लोग हैं वे यादव बिरादरी से हैं. लालू यादव को सिर्फ अपने परिवार की चिंता की और किसी की नहीं करते हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News