खगड़िया हादसे में मारे गए मजदूरों के परिजनों से मिले पप्पू यादव, कहा किसी भी सूरत में पीड़ित परिवार को न्याय दिला कर रहूंगा

खगड़िया हादसे में मारे गए मजदूरों के परिजनों से मिले पप्पू यादव, कहा किसी भी सूरत में पीड़ित परिवार को न्याय दिला कर रहूंगा

KHAGARIA : जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने चैधा बन्नी ग्राम में विगत दिनों विद्यालय के दीवार गिरने से कालकलवित हुए छह मजदूरों के परिजनों से मिलने पहुंचे. उन्होंने इस विपदा की घड़ी में सांत्वना देते हुए धैर्य से रहने का आग्रह किया. स्थानीय मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सहित ग्रामीणों द्वारा चैधा दुर्गा मंदिर के प्रांगण में सभी छह पीड़ित परिवार को बुलाया गया. जहां जाप सुप्रीमो ने प्रत्येक पीड़ित परिवार के माली हालत को जाना. साथ ही साथ स्थानीय ग्रामीणों द्वारा घटना के कारण के बारे में पूर्व सांसद को विस्तारपूर्वक बताया गया. ग्रामीणों के अनुसार कुछ ने इसे सड़क का अतिक्रमण बताया तो किसी ने खास व्यक्ति के जमीन कब्जा करने का षड्यंत्र बताया. 

ग्रामीणों के अनुसार जिस स्थान पर पूर्व में चहारदीवारी थी. उससे हटाकर पूरब की तरफ सड़क अतिक्रमण हेतु दीवार को तीन-चार माह पूर्व पुराने दीवार के ईट से ही नए दीवार का निर्माण कराया गया था. इतना ही नहीं पिलर निर्माण में भी गिट्टी-सीमेंट के जगह ईट का प्रयोग किया गया. तमाम बातों को सुनने के बाद घटना के दिन प्रभारी जिलाधिकारी के निर्देश पर अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा पीड़ित परिवार को ग्रामीणों के समक्ष दिए गए वादे को दोहराते हुए युवा शक्ति के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नागेंद्र सिंह त्यागी ने कहा कि आपदा के तहत चार लाख के अलावे श्रम विभाग द्वारा डेढ़ लाख रुपया दिया जाएगा. इसके लिए प्रशासन हर स्तर से पहल करेगी. भूमिहीन पीड़ित परिवार को बासगीत पर्चा उपलब्ध कराया जाएगा. प्रत्येक परिवार को इंदिरा आवास योजना के तहत घर बनवाया जाएगा. परिवारिक लाभ हेतु बीस हजार रुपए दिया जाएगा. इसके बाद उपस्थित पीड़ित परिवार एवं ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए जाप सुप्रीमो राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि इस हृदय विदारक घटना में सिर्फ छह व्यक्ति की मौत नहीं बल्कि छह परिवार की मौत हुई है. उन्होंने कहा कि जितने मजदूर भाई बेटे थे, वही अपने परिवार के लिए जलता चिराग थे. उनके जाने के बाद पूरा परिवार तिल तिल मरने को विवश हैं. 

उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि दोनों ही कार्य सरकारी स्तर से या और दोनों कार्य में शासन प्रशासन विधायक एवं संवेदक स्तर से लापरवाही बरती गई थी. जिसका परिणाम इतनी बड़ी हादसा हुई. उन्होंने जिला प्रशासन से भी आह्वान करते हुए कहा कि हर हालत में पीड़ित परिवार को किए गए वादे को अविलंब पूरा करें. यदि जिला प्रशासन वादे को पूरा नहीं करती है तो जन अधिकार पार्टी बाध्य होकर सड़क पर उतरेगी, लेकिन न्याय दिलाकर ही दम लेगी. पप्पू ने पीड़ित परिवार को आश्वस्त किया कि बासगीत परचा श्रम विभाग से मिलने वाली डेढ़ लाख रुपया और इंदिरा आवास तो स्थानीय स्तर के पहल से होगा, लेकिन प्रत्येक परिवार को किसी भी श्रेणी में एक-एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दिलाने हेतु आवाज 13 मार्च को रेल चक्का जाम के दौरान उठाएंगे. ग्रामीणों के एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पप्पू यादव किसी भी पीड़ित व्यक्ति के लिए किसी भी सीमा तक जाने से पीछे नहीं हटता है. इसलिए यदि रहने हेतु जमीन सरकार नहीं देगी तो पप्पू यादव अपने स्तर से दिलाने का काम करेंगे. 

उन्होंने दोषी पदाधिकारी पर कार्रवाई हेतु जिला प्रशासन से मांग की कि कोई दोषी व्यक्ति बचना नहीं चाहिए और उस पर स्पीडी ट्रायल कर सजा देनी चाहिए. चाहे वह पदाधिकारी या व्यक्ति कितना भी बड़ा ताकतवर क्यों ना हो. साथ ही उन्होंने घोषणा किया कि पीड़ित परिवार की लड़की के शादी में जन अधिकार पार्टी पचास हजार रुपए सहयोग करेगी. उन्होंने तत्कालिक प्रत्येक परिवार को दस-दस हजार रुपए सहयोग किया. इसके बाद पूर्व सांसद ने घटनास्थल का मुआयना किया. मुआयना के पश्चात पत्रकार को बताया कि यह घटना बिहार के स्टीमेट घोटाला का पोल खोलती है. उन्होंने जोर देकर कहा कि यदि सही रूप में जांच किया जाए तो देश में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला स्टीमेट घोटाला साबित होगा. 

खगड़िया से अनिश कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News