सामाजिक कार्यकर्त्ता ने भ्रष्टाचार के खिलाफ आत्मदाह की दी चेतावनी, बीडीओ बोले-खुद करते हैं बिचौलिए का काम

सामाजिक कार्यकर्त्ता ने भ्रष्टाचार के खिलाफ आत्मदाह की दी चेतावनी, बीडीओ बोले-खुद करते हैं बिचौलिए का काम

GAYA : बिहार के गया में 80 वर्षीय सामाजिक कार्यकर्ता श्री राम सिंह ने 26 जनवरी को आत्मदाह करने को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि यदि भ्रष्ट पदाधिकारियों की जांच कर उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है, तो वह 26 जनवरी को आत्मदाह करने को विवश होंगे और इसके लिए जिला प्रशासन के लोग दोषी होंगे। 

80 साल की उम्र में भ्रष्टाचार के खिलाफ उठा रहे आवाज

श्री राम सिंह ने बताया कि उनकी उम्र 80 साल है और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ते रहे हैं। पिछले 25 साल सालों से पदाधिकारियों चाहे अनुमंडल से जुड़े हों या प्रखंड मुख्यालय से, उनके खिलाफ लड़ाई लड़ते रहे हैं और धरना प्रदर्शन,अनशन भी किया है। बताया कि अभी खिजरसराय मुख्यालय के पदाधिकारी जो कि भ्रष्ट हैं, उनके द्वारा धरना दिए जाने पर केस में फंसाने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि लेखापाल, सुपरवाइजर और बीडीओ के द्वारा ऐसा किया जा रहा है।

धरना के दौरान किया अपमानित

उन्होंने कहा कि बीते 17 तारीख को वह धरना पर बैठे थे, तो बीडीओ ने उन्हें अपमानित किया और तरह-तरह की बातें कहीं। इसके बाद हमारे सभी साथी आए और उनके रिक्वेस्ट के बाद हमने धरना खत्म किया. अनशन को समाप्त किया। लेकिन अब भी यदि भ्रष्ट प्रशासन के लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती है, तो वह 26 जनवरी को आत्मदाह करेंगे और उसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन के पदाधिकारियों को होगी। बताया कि वे खिजरसराय प्रखंड के उचौली गांव के रहने वाले हैं और लगातार भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं।

खुद करते हैं बिचौलिया का काम, आरोप सरासर गलत: बीडीओ

इस संबंध में खिजरसराय प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी पवन कुमार ने बताया है कि आरोप सरासर गलत है। वे खुद बिचौलिये का काम करते हैं। हम पर भ्रष्ट होने का आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद है। वह आत्मदाह करने की धमकी दे रहे हैं, तो इसमें हम क्या कर सकते हैं, जिनकी छवि खुद साफ-सुथरी नहीं है। 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News