बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

मोतिहारी में कारवाने-इत्तेहाद में शामिल हुए मंत्री अशोक चौधरी, कहा सीएम नीतीश ने अल्पसंख्यक कल्याण विभाग का बढ़ाया बजट

मोतिहारी में कारवाने-इत्तेहाद में शामिल हुए मंत्री अशोक चौधरी, कहा सीएम नीतीश ने अल्पसंख्यक कल्याण विभाग का बढ़ाया बजट

PATNA : बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सबकी बात करते हैं, सबको जोड़ने की बात कहते हैं, 21वीं सदी का विकसित बिहार बनाने की बात करते हैं। उन्होंने अपने 18 साल के कार्यकाल में अल्पसंख्यकों के लिए हमेशा न्याय की बात की है और उनकी आवाज़ को बुलंद किया गया है। सामाजिक, आर्थिक एवं राजनैतिक रूप से कैसे अल्पसंख्यक सबल हो, सशक्त हो, इसके लिए मुख्यमंत्री ने योजनाओं का निर्माण एवं बजट का प्रावधान किया और योजनाओं को धरातल पर उतारा है। 

चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार के विचार, वाणी और कार्यों का आपसी संयोग अद्भुत है जिसका परिणाम है कि अपने 18 वर्ष के कार्यकाल में इस प्रदेश में अल्पसंख्यक सबल हो सके, सशक्त हो सके।  इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश ने लगातार योजनाओं और बजट में वृद्धि किया है। मंत्री अशोक चौधरी, मोतिहारी जिलान्तर्गत मधुबन में संपन्न हुए कारवाने-इत्तेहाद व भाईचारा सम्मेलन में सभा को सम्बोधित कर रहे थे। चौधरी ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2004 - 05 में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग का कुल योजना बजट केवल 03 करोड़ 53 लाख रुपया था। जिसे मुख्यमंत्री ने अपने कार्यकाल में बढाकर वर्ष 2022 - 23 में करीब 700 करोड़ तक पहुँचाने का काम किया है।  

चौधरी ने कहा कि जिन अंग्रेज़ों ने हम पर कई सालों तक राज किया, जब उन्हें लगने लगा कि अब ये हिन्दुस्तानी हमारी चलने नहीं देंगे तो उनहोंने हमें धर्म के नाम पर बाँट कर राज करना चाहा। लेकिन ये देश महात्मा गाँधी, बाबा साहब और मौलाना आज़ाद का देश है जिन्होंने इस देश की गंगा - जमुनी तहज़ीब और आपसी मिल्लत के लिए शहादत दी। आज आज़ादी के इतने साल बाद एक राजनीतिक दल है जो उन्ही अंग्रेज़ों के बताये हुए रास्ते पर चल कर यहाँ धर्म और संप्रदाय के नाम पर हमारे हिन्दू और मुस्लिम भाइयों के बीच दरार डाल सत्ता पर काबिज़ रहना चाहती है। चौधरी ने कहा कि केंद्र में बैठी उस राजनीतिक दल की सरकार या उनके नेता ने अपने इस 9 वर्ष के कार्यकाल में न तो महंगाई रोकने के लिए कुछ किया और न ही बेरोज़गारी ख़त्म करने के लिए कुछ किया। यहाँ तक की केंद्र की नौकरियों को भी आउटसोर्स कर दिया। सेना की नौकरियों को भी नहीं छोड़ा और उसे भी आउटसोर्स कर दिया। ये लोग लगातार इस देश की गंगा-जमुनी संस्कृति पर कुठाराघात करने का प्रयास कर सत्ता पर बने रहना चाहते हैं। 

चौधरी ने विधान परिषद् सदस्य खालिद अनवर को हार्दिक बधाई और धन्यवाद देते हुए कहा कि महात्मा गाँधी की धरती चम्पारण से अनवर ने कारवाने-इत्तेहाद व भाईचारा जैसे सम्मलेन की शुरुआत कर अति प्रशंसनीय कार्य किया है। ये हम सभी की जिम्मेदारी है कि इस भाईचारे की मुहीम को हम पूरे प्रदेश के सभी धर्म और संप्रदाय के लोगों के बीच लेकर जाएं। हम सभी का यह दायित्व है कि हम इसके माध्यम से आपसी भाईचारे का अलख जगाएं और अपने हिन्दू मुस्लिम भाइयों को सामाजिक समरसता बनाये रखने के लिए प्रेरित करें। चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री चाहते हैं कि इस प्रदेश के सभी लोग संरक्षित रहे, सुरक्षित रहे और साथ मिल कर विकास करें। चौधरी ने सभी से अपील की कि नीतीश कुमार के हाथ को मज़बूत करें और इक्कीसवीं सदी के बिहार के निर्माण में अपनी भागीदारी दें।  

इस अवसर पर  बिहार सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ज़मा खान, एमएलसी ज़नाब खालिद अनवर, जदयू जिलाध्यक्ष मंजू देवी, हरनौत विधानसभा प्रभारी भाई परिमल राज, मंजर इमाम साहब, कादरी साहब, राजद नेता जनाब चांदी खान, पूर्व मुखिया खानब साहब, ज़नाब गुड्डू मंसूरी, जदयू प्रखंड अध्यक्ष भाई जितेंद्र पटेल, भाई सुबोध पटेल सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Suggested News