मंत्री सुमित सिंह की खरी-खरी : मेरी पहचान छोड़िए, चिराग बताएं पिता के बिना उनकी क्या पहचान, आज हकीकत सबके सामने है

मंत्री सुमित सिंह की खरी-खरी : मेरी पहचान छोड़िए, चिराग बताएं  पिता के बिना उनकी क्या पहचान, आज हकीकत सबके सामने है

PATNA : बिहार की राजनीति में अब राजनेताओं की पहचान को लेकर लड़ाई शुरू हो गई है। जिसमें बिहार सरकार में आईटी मंत्री सुमित सिंह ले चिराग पासवान पर सच्चाई से अवगत करा दिया है। सुमित सिंह ने पहचान को लेकर चिराग समर्थकों द्वारा लगाए गए आरोपों को कबूल करते हुए कहा कि  मान लिया कि हमें कोई नहीं जानता लेकिन आज हम जो भी हैं अपने दम पर हैं।  हमको कोई इंटरनेशनल नेता के द्वारा पहचान नहीं मिला है। वह चांदी खेत चम्मच मुंह में लेकर पैदा हुए हैं।  हमने पहले भी कहा था कि चिराग पासवान की राजनीति तभी तक है जब तक उनके पिता जीवित है और उनके पिता के गए 1 साल भी नहीं हुए हैं और देख लीजिए कि वह आज अपनी पहचान बनाए रखने के लिए जूझ रहे हैं। 

एनडीए के बिना सांसद भी नहीं बन सकते थे

सुमित सिंह ने चिराग पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि वह जमुई से सांसद हैं, फिर भी वह अपने प्रत्याशी को जीत नहीं दिला सके। उनका कैंडिडेट चौथे स्थान पर रहा। उन्होंने कहा कि एसी कमरे में बैठकर हाथ हिलाने से काम नहीं चलता है। फिल्मों में भी फ्लॉप हुए, राजनीति में भी उनको जीत तब ही मिल सकी जब वह एनडीए के साथ थे। अन्यथा चिराग कभी सांसद नहीं बन सकते थे। चिराग इतने काबिल रहते तो वह अपने क्षेत्र मे लोजपा को जीत दिला देते। मेरी पहचान मेरी मेहनत के कारण है, ना कि पिता के कारण।

उप चुनाव में तेजस्वी की दावे की खोलेंगे पोल

इस दौरान सुमित सिंह ने उपचुनाव में राजद को कभी हार न मिलने के रिकार्ड को लेकर सुमित सिंह ने कहा तेजस्वी की यह गलतफहमी इस बार के उप चुनाव में दूर हो जाएगी। उपचुनाव में दोनों सीटों पर हमारी जीत होगी। इस दौरान उन्होंने  तेजस्वी यादव को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि वह कहते है कि बिहार में विकास मिस्टर इंडिया हो गया है, जो दिखाई ही नहीं देता है। मैं तेजस्वी को यह सलाह दूंगा कि वह लाल रंग वाला चश्मा पहनें, विकास नजर आने लगेगा। 




Find Us on Facebook

Trending News