चार दिन बाद मिला लापता सपना का शव, पहली सोमवारी के दौरान गंगा में हो गई थी गुम

चार दिन बाद मिला लापता सपना का शव, पहली सोमवारी के दौरान गंगा में हो गई थी गुम

BHAGALPUR : कहलगांव क्षेत्र के रानी दियारा गंगा घाट  से स्थानीय लोगों के सहयोग से छात्रा सपना कुमारी का शव गुरुवार को बरामद कर लिया गया। बीते सोमवार से ही उसकी तलाश की जा रही थी। किंतु एसडीआरएफ के टीम को सफलता नहीं मिली। आखिरकार कई घंटों के प्रयास के बाद उसकी लाश को ढूढने में कामयाबी मिली।

दोस्तों के साथ आई थी प्रथम सोमवारी की पूजा करने

जानकारी के मुताबिक प्रथम सोमवारी को अपने चार सहेलियों के साथ स्नान करने कहलगांव गंगा घाट आई थी। लेकिन नहाने के दौरान वह और उसकी सहलियां गंगा की गहराई में चली गई और डूबने लगी। इस दौरान बाकी को बचा लिया गया, लेकिन सपना को बचाने में कामयाबी नहीं मिली। हालांकि एसडीआरएफ की टीमों द्वारा छात्रा को निकालने का हद तक प्रयास किया गया था। किंतु एसडीआरएफ के टीम को सफलता नहीं मिली। जिसके बाद से परिजनों में अपनी बेटी के खोने का गम सताए जा रहा था, जो कि उसकी लाश मिलने के  बाद सच साबित हुआ।

खुद नदी किनारे पहुंच गया शव

सपना का शव खुद नदी के बहाव के साथ कहलगांव घाट से बहते बहते रानी दियारा गंगा घाट  किनारेपर पहुंच गया था। जहां से छात्रा सपना का शव रानी दियारा गंगा घाट में मिलने के पश्चात उसे  रेलवे लाइन रानी दियारा चौक  लाया गया।  छात्र का शव पहचान में भी नहीं आ रही थी। वही शव को देखने के लिए इलाके के ग्रामीणों का भीड़ का जमावड़ा हो गया। कहलगांव थाना अध्यक्ष श्रीकांत भारती ने जानकारी देते हुए बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भागलपुर भेज दिया गया। छात्र नेता सिट्टू कुमार, पीरपैंती प्रखंड के ऊपर उपाध्यक्ष मणिकांत कापडी अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

सपना कुमारी गौघट्टा निवासी विजय यादव की प्रथम सुपुत्री थी। जो चार भाई बहनों में सबसे बड़ी थी। इसी साल मैट्रिक की परीक्षा में पास होने के बाद उसने इंटर में एडमिशन लिया था और कहलगांव में ही रहकर पढ़ाई कर रही थी।


Find Us on Facebook

Trending News