मोतिहारी -आरडीडी और डीएम का आदेश प्रखंड शिक्षा कार्यालय पर बेअसर,दर्जनों विद्यालय में वरीय के रहते कनीय शिक्षक को एचएम का प्रभार

मोतिहारी -आरडीडी और डीएम का आदेश प्रखंड शिक्षा कार्यालय पर बेअसर,दर्जनों विद्यालय में वरीय के रहते कनीय शिक्षक को  एचएम का प्रभार

मोतिहारी: क्षेत्रीय उप निदेशक व जिला पदाधिकारी के आदेश का कोई असर मोतिहारी जिला कब अरेराज प्रखंड शिक्षा कार्यालय पर नही है .वरीय के आदेश को दरकिनार कर बीआरसी के मिलीभगत से प्रखंड क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक  विद्यालय में वरीय शिक्षक के रहते कनीय शिक्षक प्रभारी एचएम है .पूर्व में भी वरीय शिक्षक को एचएम का  प्रभार देने के लिए जिला से लेकर क्षेत्रीय उप शिक्षा निदेशक तक का पत्र आया .लेकिन बीआरसी में उक्त वरीय पदाधिकारियो के आदेश का कोई असर नही पड़ता .मंत्री प्रमोद कुमार भी डीएम को पत्र भेजकर वरीय शिक्षक को एचएम का प्रभार दिलाने की बात कही गई थी.

सबसे रोचक तो यह है कि उत्क्रमित मध्य विद्यालय जितवारपुर में शिक्षा विभाग के मेहरवानी से कई वरीय शिक्षक को छोड़कर शारीरिक शिक्षक एचएम के प्रभार में है .सूत्रों की माने तो वरीय को छोड़ कनीय को एचएम के प्रभार के खेल में जिला शिक्षा कार्यालय से लेकर बीआरसी व राजनीतिक तक चढ़वा चढ़ाने से इंकार नही किया जा सकता .अगर प्रखंड क्षेत्र के उपस्कर खरीदारी,भवन निर्माण,एमडीएम की सूक्ष्म तरीके से जांच किया जाय बहुत ही चौकाने वाले रिपोर्ट आने से इंकार नही किया जा सकता .उपस्कर ,एमडीएम,रिपेयरिंग,बिधूत वायरिंग के कमीशन के खेल को लेकर ही कई कनीय शिक्षक उच्ची पैरवी के बल व चढ़वा के बल पर वरीय शिक्षक के रहते कनीय शिक्षक एचएम के प्रभार में है .

विगत 4 फरवरी को जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना द्वारा सभी बीईओ को पत्र भेजकर निर्देश दिया गया कि एक सप्ताह में जिस विद्यालय में वरीय शिक्षक के रहते कनीय शिक्षक एचएम के प्रभार में उसे एक सप्ताह में हटाते हुए वरीय को प्रभार दिलाने व जिला को रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया . डीपीओ के आदेश के बाद भी यूएमएस ममरखा बालक,यूएमएस गुजरौलिया हिंदी,कन्या मध्य विद्यालय मलाही,मध्य विद्यालय जितवारपुर,उत्क्रमित उच्च विद्यालय रढिया,उत्क्रमित उच्च विद्यालय विनवलिया ,उत्क्रमित उच्च विद्यालय झखरा सहित एक दर्जन से अधिक विद्यालय में वरीय शिक्षक के रहते कनीय शिक्षक एचएम के  प्रभार में है .इस संबंध में बीईओ सुधा कुमारी ने बतायी की इंटर परीक्षा में के केंद्राधीक्षक होने के कारण अधिक व्यस्तता थी .एक दो दिनों में पत्र निकाल कर वरीय शिक्षक को प्रभार दिलवा दिया जाएगा .वही कुछ विद्यालय में वरीय शिक्षक अस्वस्थ रहने के कारण प्रभार लेने से इंकार कर रहे है .वही एक विद्यालय में वरीय शिक्षक पर गबन के मामला को लेकर समस्या चल रहा है .

Find Us on Facebook

Trending News