बिहार में अफसर-डीलर मिल खा रहे गरीबों का निवाला,'फ्री' वाले राशन में भारी घोटाला! गरीबों को नहीं मिल रहा नवंबर का मुफ्त वाला अनाज

बिहार में अफसर-डीलर मिल खा रहे गरीबों का निवाला,'फ्री' वाले राशन में भारी घोटाला! गरीबों को नहीं मिल रहा नवंबर का मुफ्त वाला अनाज

MOTIHARI: गरीबो को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत नवम्बर माह तक मुफ्त राशन देने की घोषणा की गई थी। प्रधानमंत्री अपनी हर सभा में यह उल्लेख करना नहीं भूलते थे। लेकिन अब सरकार ने गरीबों से डंडी मारना शुरू कर दिया है।यूं कहें कि बिहार के गरीब एक बार फिर से बेवकूफ बने हैं. ऐसा इसलिए क्यों कि गरीबों को नवंबर माह में मिलने वाला फ्री में अनाज नहीं मिल रहा।आखिर फ्री वाला अनाज क्यों नहीं मिल रहा इस पर साफ-साफ बोलने से अधिकारी बच रहे। वहीं,गरीबों को फ्री में अनाज नहीं मिलने से अब इस बात की शंका गहराने लगी है कि कहीं बड़ा घोटाला तो नहीं हो रहा ? 

फ्री वाला नहीं फैसा वाला अनाज मिल रहा

पूर्वीचंपारण की बात करें तो पदाधिकारियो व राशन डीलर की मिलीभगत से गरीबो को नवम्बर माह के मुफ्त राशन योजना में गड़बड़ी का बड़ा खेला जा रहा है। जिला में डीलर के पॉश मशीन में नवम्बर माह के राशन वितरण के रसीद में मुफ्त व पैसा वाले दोनों राशन का पुर्जा निकल रहा है। लेकिन डीलर द्वारा उपभोक्ताओ को सिर्फ पैसा वाला राशन देकर मुफ्त राशन का चूना लगाया जा रहा है । उपभोक्ताओ की शिकायत के बाद भी पदाधिकारी राशन डीलर पर करवाई से बचते नजर आ रहे है।सूत्रों की मानें तो मुफ्त राशन कम होने की बात कहकर पदाधिकारी अपना पाला झाड़ रहे है। वहीं,राशन डीलर इसका लाभ उठाकर मुफ्त राशन नही देकर उपभोक्ता को सिर्फ पैसा वाला राशन देकर मुफ्त राशन का गबन करने में जुटे है। 


भारी घपलेबाजी की संभावना

पूर्वीचंपारण जिला के तुरकौलिया,बंजरिया,सुगौली,कोटवा,केसरिया समेत कई प्रखंडो में उपभोक्ता से लेकर आम लोगो मे चर्चा बनी हुई है कि सरकार के नवम्बर माह तक मुफ्त राशन पदाधिकारियो व राशन डीलर की मिलीभगत से कालाबजारी के भेट चढ़ गया । जिला के पचास प्रतिशत डीलर के द्वारा ही मुफ्त व पैसा वाले राशन का वितरण किया गया है । अगर सूक्ष्म तरीके से जांच की जाए तो गरीब मुफ्त योजना में भारी गड़बड़ी का खुलासा हो सकता है। अधिकांश डीलर उपभोक्ताओ को नवम्बर माह का मुफ्त राशन उठाव नही होने की बात कहकर बैरंग वापस भेज रहे है । कुछ डीलरों की माने तो पॉश मशीन में नवम्बर माह का आवंटन पटना से हुआ है। इसलिए सभी मशीन में मुफ्त व पैसा वाला राशन चढ़ा है। जिससे मुफ्त राशन वितरण में परेशानी हो रही है । वहीं कोटवा प्रखंड के भोपतपुर उतरी पंचायत के मुखिया ने घोषणा किया है कि 25 दिसम्बर तक पंचायत में मुफ्त राशन नही वितरण किया जाएगा तो आमरण अनशन करेंगे. 

SFC प्रबंधक का दावा-अनाज की कमी नहीं सभी डीलर को भेजा गया

वहीं बिहार राज्य खाद निगम के जिला प्रबंधक मनोज कुमार ने बताया कि नवम्बर माह में प्रधनमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए एक लाख 65 हज़ार क्विंटल खाद्यान की आवश्यकता थी। वहीं जुलाई से लेकर अक्टूबर तक मुफ्त राशन वितरण में डीलर के पास लगभग 59 हज़ार किविंटल खाद्यान का स्टॉक शो कर रहा है। डीलर के पास शो कर रहे आवंटन को काटकर एक लाख 7 हज़ार क्विंटल खाद्यान डीलरों को वितरण के लिए दिया जा चुका है ।

फ्री वाला अनाज नहीं देने वाले डीलरों पर होगी कार्रवाई

इधर, जिला आपूर्ति पदाधिकारी रविन्द्र चौधरी ने बताया कि जिला में अनाज की कोई कमी नही है। पूर्व से कुछ डीलर के पास स्टॉक बचा हुआ है । जिसे एडजस्ट कर मुफ्त राशन वितरण करने का निर्देश सभी डीलर को दिया गया है। जिला के सभी उपभोक्ता पॉश मशीन पर अगूंठा लगाकर अपने डीलर से मुफ्त व पैसे वाले राशन का उठाव करें। अंगूठा लगाने के बाद मुफ्त राशन नही देने की शिकायत मिलने पर सम्बंधित पदाधिकारी सहित राशन डीलर पर करवाई की जाएगी।वहीं दिसम्बर व जनवरी माह का राशन एक जनवरी माह में वितरण किया जाएगा।

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News