मुकेश सहनी को मिला भारतीय जन परिवार पार्टी का साथ, वीआईपी प्रमुख ने कहा - हक के लिए सभी अति पिछड़ों को एक जुट की जरुरत

मुकेश सहनी को मिला भारतीय जन परिवार पार्टी का साथ, वीआईपी प्रमुख ने कहा - हक के लिए सभी अति पिछड़ों को एक जुट की जरुरत

दो निर्दलीय उम्मीदवार श्री राजेश कुमार रमैया और श्री रामविनय दास ने  वीआईपी पार्टी को समर्थन दिया

MUZAFFARPUR : बिहार की राजनीति में बिल्कुल अकेले पड़ चुके वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी को अब दूसरी पार्टी और नेताओं का समर्थन मिलने लगा है। जिनमें एक बड़ा नाम बिहार की राजनीति में तेजी से उभर रहे भारतीय जन परिवार पार्टी भी शामिल है। इसके अलावा मुकेश सहनी के समर्थन करनेवालों में निर्दलीय उम्मीदवार राजेश कुमार रमैया और रामविनय दास भी शामिल हैं।

  गुरुवार को मुकेश सहनी ने  भारतीय जन परिवार पार्टी के  अध्यक्ष पृथ्वी माली के साथ आयोजित प्रेस वार्ता में बोचहां विधानसभा में अपनी जीत के लिए मजबूत दावेदारी प्रस्तुत की। इस दौरान पृथ्वी माली ने वीआईपी उम्मीदवार के समर्थन करने की घोषणा करते हुए कहा कि राजनीति में एक अतिपिछड़ा को आगे बढ़ाने के लिए सहयोग की जरुरत है, जिसमें माली समाज मुकेश सहनी के साथ खड़ा है। बता दें पृथ्वी माली ने संघर्ष करके पूरे राज्य में माली समाज को एकजुट करने का काम किया है । 

मुकेश सहनी ने दो निर्दलीय उम्मीदवारों से मिले समर्थन के लिए आभार जताते हुए कहा कि  राजेश कुमार रमैया जी जहां मेहतर समाज से आते हैं वहीं श्री रामविनय दास जी ततमा समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं। अपने समाज में इन दोनों नेताओं का बड़ा वोट बैंक है. जो कि बोचहां विधानसभा चुनाव में मुकेश सहनी की जीत में बड़ी भूमिका निभा सकती है। 

अति पिछड़ों को एक जुट होने की जरुरत

मुजफ्फरपुर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुएबिहार के पूर्व मंत्री और वीआईपी सुप्रीमो सन ऑफ मल्लाह  मुकेश सहनी ने  कहा कि आज जरूरत है कि अतिपिछड़ा समाज के लोग एकजुट हों और अपने अधिकार और हक की लड़ाई को बुलंद करें। उन्होंने कहा कि इस कार्य में हो सकता है कि व्यक्तिगत रूप से कुछ नुकसान उठाना पड़े, लेकिन अगर हमलोग अपने अधिकार को नहीं ले सके तो आने वाली पीढ़ी हमें माफ नही करेगी। 

उन्होंने कहा कि अगर हमलोग अपनी पार्टी का विलय भाजपा में कर दिया होता तो आज भी मैं राज्य में नहीं केंद्र में मंत्री होता, लेकिन यह अपने ही समाज को धोखा देने वाली बात होती। उन्होंने कहा आज वीआईपी जो भी है वह अतिपिछड़ा समाज के लोगों के समर्थन के कारण है। 

उन्होंने इस मौके पर  पृथ्वी माली, राजेश कुमार रमैया और श्री  रामविनय दास को धन्यवाद देते हुए कहा कि श्री राजेश कुमार रमैया 2020 विधानसभा के चुनाव में करीब 4000 वोट लाए थे। सहनी ने कहा कि आज मुझे मंत्री पद से भी हटा दिया गया,  इसके बावजूद इस चुनाव में मिल रहा समर्थन उत्साहित कर रहा। उन्होंने कहा कि बोचहा सीट का परिणाम अतिपिछड़ा समाज के राजनैतिक भविष्य को तय करेगी।

Find Us on Facebook

Trending News