बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • पटना के मसौढ़ी में जमीन खरीद बिक्री डेवलर्स कंपनी के गार्ड की हत्‍या, खेत में मिला शव
  • पटना के मसौढ़ी में जमीन खरीद बिक्री डेवलर्स कंपनी के गार्ड की हत्‍या, खेत में मिला शव

  • प्राइवेट स्कूलों की तरह सरकारी विद्यालयों के छात्रों को भी मिलेगा स्कूल बैग, वॉटर बोतल, जूते-मोजे, केके पाठक ने कर दी घोषणा
  • प्राइवेट स्कूलों की तरह सरकारी विद्यालयों के छात्रों को भी मिलेगा स्कूल बैग, वॉटर बोतल, जूते-मोजे, केके पाठक

  • बुलेट की चाहत में पत्नी की गला घोंटकर कर दी हत्या, एक साल पहले शादी कर ससुराल आई थी विवाहिता
  • बुलेट की चाहत में पत्नी की गला घोंटकर कर दी हत्या, एक साल पहले शादी कर ससुराल आई

  • बांका में बाइक की टक्कर से सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति की हुई मौत :परिजनो में मचा कोहराम
  • बांका में बाइक की टक्कर से सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति की हुई मौत :परिजनो में मचा

  • नवादा में ऐतिहासिक होगी तेजस्वी की यात्रा, दो लाख से अधिक लोगों के शामिल का अनुमान
  • नवादा में ऐतिहासिक होगी तेजस्वी की यात्रा, दो लाख से अधिक लोगों के शामिल का अनुमान

  • मुजफ्फरपुर पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय बाइक चोर गिरोह का किया उद्भेदन, 6 चोरों को आधा दर्जन चोंरी की बाइक के साथ किया गिरफ्तार
  • मुजफ्फरपुर पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय बाइक चोर गिरोह का किया उद्भेदन, 6 चोरों को आधा दर्जन चोंरी की बाइक

  • लोकसभा चुनाव को लेकर मुंगेर पुलिस ने शुरू की वारंटियों की धड़पकड़, एक रात में 55 आरोपियों को जेल में डाला
  • लोकसभा चुनाव को लेकर मुंगेर पुलिस ने शुरू की वारंटियों की धड़पकड़, एक रात में 55 आरोपियों को

  • गंगा समेत अन्य नदियों को निर्मल करने और मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए रिवर रेचिंग कार्यक्रम,4-4 लाख मछली के बच्चे नदी में डाले गए
  • गंगा समेत अन्य नदियों को निर्मल करने और मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए रिवर रेचिंग कार्यक्रम,4-4

  • स्कूल गए 14 वर्षीय छात्र की पिटाई से हुई मौत, परिजनों ने टीचर पर लगाया बेरहमी से पिटने का आरोप
  • स्कूल गए 14 वर्षीय छात्र की पिटाई से हुई मौत, परिजनों ने टीचर पर लगाया बेरहमी से पिटने

  • बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के नाम से फर्जीवाड़े में शामिल रहे ओम प्रकाश तिवार को पुलिस  ने किया डिटेन
  • बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के नाम से फर्जीवाड़े में शामिल रहे ओम प्रकाश तिवार को पुलिस ने किया

' संकल्प यात्रा' के दौरान गांधी की कर्मभूमि चंपारण पहुंचे मुकेश सहनी, कहा- निषाद समाज को अब तक नहीं मिली आजादी

' संकल्प यात्रा' के दौरान गांधी की कर्मभूमि चंपारण पहुंचे मुकेश सहनी, कहा- निषाद समाज को अब तक नहीं मिली आजादी

मोतिहारी/पटना: विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख और बिहार के पूर्व मंत्री मुकेश सहनी गुरुवार को अपनी निषाद आरक्षण संकल्प यात्रा के क्रम में महात्मा गांधी की कर्मभूमि पूर्वी चंपारण पहुंचे। सहनी के यहां पहुंचने पर लोगों ने दिल खोलकर स्वागत किया। गुरुवार की संकल्प यात्रा डिलिया बाजार केसरिया से शुरू हुई, जहां बड़ी संख्या में उपस्थित युवाओं और महिलाओं ने आने वाली पीढ़ी  के उज्जवल भविष्य के लिए पढ़ाने का तथा संघर्ष करने का हाथ में गंगाजल लेकर संकल्प लिया। उपस्थित लोगों को संकल्प दिलवाने के क्रम में सहनी ने इस धरती को नमन करते हुए कहा कि इसी धरती ने संकल्प की बदौलत गांधी को महात्मा बनाया था। आज हम भी संघर्ष का संकल्प ले रहे है और संकल्प निषादों के उज्जवल भविष्य को तय करेगा। 

बता दें कि, सहनी संकल्प रथ पर सवार होकर इसके बाद लाला छपरा चौक, पितांबर चौक केसरिया, हुसैनी बाजार, सेमापुर मेला बाजार, संग्रामपुर, बड़ी वीअरिया बाजार पहुंचे। जहां विरती टोला ब्रह्म स्थान के प्रांगण में  विशाल जनसभा को संबोधित किया। इसके बाद गायघाट, उज्जैन लोहियार पंचायत के बलुआ हाई स्कूल के प्रांगण में विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान सभी स्थानों पर बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे और उत्साह के साथ वीआईपी को समर्थन देने तथा निषादों के आरक्षण के लिए संघर्ष में साथ देने का संकल्प लिया।

लोगों को संकल्प दिलाते हुए सहनी ने कहा कि आजादी की लड़ाई में बड़ी संख्या में निषाद समाज के लोगों ने अपनी जान गंवाई लेकिन आज भी निषाद समाज को सही आजादी नहीं मिल पाई है। आज भी निषादों को हक और अधिकार के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। उन्होंने लोगों में जोश भरते हुए कहा कि आज पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में निषादों को आरक्षण मिल रहा है लेकिन बिहार, यूपी, झारखंड को अब भी यह अधिकार नहीं दिया गया है। 

उन्होंने कहा कि नौ वर्ष के संघर्ष की बदौलत आज बिहार में निषादों की अलग पहचान बनी है। अब हमें इसी जोश के साथ संघर्ष करना है कि देश दुनिया में भी निषाद के लोग सिर उठाकर जी सके, इसी के लिए संकल्प लेना जरूरी है। उन्होंने कहा कि जो संकल्प है वह अभी पूरी तरह पूरा नहीं हुआ है।