मुखिया पति के फरमान पर युवक को मारे गए दो सौ डंडे, देखती रही इलाके की पुलिस

मुखिया पति के फरमान पर युवक को मारे गए दो सौ डंडे, देखती रही इलाके की पुलिस

सीतामढ़ी। बिहार के सीतामढ़ी जिले में एक मुखिय़ा पति के दबंगई और उसके तालिबानी फैसले के सामने पुलिस भी नतमस्तक बनी हुई है। मामला सीतामढ़ी प्रखंड के रीगा प्रथंम पंचायत के मुखिया पति विन्देश्वर पासवान से जुड़ा है। जिसने एक युवक को मामुली विवाद को लेकर पंचायत बुलाकर उसको दो सौ डंडे मारने का सजा सुना दिया। भरी पंचायत मे मुखिया पति के आदेश का लोगों ने पालन किया और एक विक्षिप्त युवक को बेरहमी से दो सौ डंडे मारे गये।बेरहमी से पिटाई के बाद  युवक सुशील साह की हालत पुरी तरिके से खराब हो गयी जिसे इलाज के स्थानीय पीएचसी मे भर्ती कराया गया जहा उसकी हालत गंभीर होते देख उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। फिलहाल पीड़ित युवक की हालत बेहद नाजूक बनी हुई है और इलाज कराने के उसके पास पैसे नही है। 

इस मामले मे पुलिस की कार्यप्रणाली से आम लोग पुरी तरीके से हैरान है। पुलिस ने पीड़ित युवक के द्वारा दर्ज शिकायत के आलोक मे आरोपी मुखिया पति पर किसी तरिके से कोई कार्रवाई करने के बजाये उसे थाने से ही बेल दे दिया।  इतना ही नही मुखिया पति के बयान पर पीड़ित युवक और उसके परिवार वालो पर अनुसूचित जाति उत्पीड़न का मामला दर्ज कर दिया। 

दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग

घटना से गुस्साए लोगों ने आज रीगा थाना के इमली बाजार को जाम कर दिया और बीमार युवक को रास्ते पर रखकर प्रदर्शन करने लगे इतना ही नही आक्रोशित लोगो का जूलूश थाने मे पहुचकर रीगा थानाध्यक्ष को संस्पेन्ड करने की मांग करने लगे। पुलिस के बयान के अनुसार भी युवक विक्षिप्त है फिर किस तरिके से बेगुनाह लोगो पर पुलिस ने केश दर्ज कर दिया है। विक्षिप्त युवक का बस इतना ही कसूर है कि सुबह जब मुखिया पति गांव मे टहल रहा था तब विक्षिप्त युवक ने मुखिया पति के सर पर एक थप्पड़ जड़ दिया था, स्थानीय लोगो के अनुसार पीड़ित युवक की हालत बेहद नाजूक बना हुआ है और वह अंतिम सांसे ले रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News