मुजफ्फरपुर स्वाधारगृह से गायब लड़की बरामद, पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा

मुजफ्फरपुर स्वाधारगृह से गायब लड़की बरामद, पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा

MUZAFFARPUR : मुजफ्फरपुर बालिकागृह में लडकियों से यौनशोषण के खुलासे के तुरंत बाद स्वाधारगृह से भी 11 लडकियों के गायब होने का मामला सामने आया था। इससे प्रशासनिक हलकों  के साथ ही राजनीतिक गलियारे में भी हड़कंप मच गया था। इस संबंध में समाज कल्याण विभाग के सहायक निदेशक ने मुजफ्फरपुर के थाने में 11 लडकियों के गायब होने का केस दर्ज कराया था। बता दें कि स्वाधारगृह का संचालन भी ब्रजेश ठाकुर के जिम्मे था।

केस दर्ज होते ही पुलिस सक्रिय हुई और छानबीन तेज कर दी गयी। तहकीकात के दौरान मंगलवार को 11 गायब लड़कियों में से एक लड़की को मुजफ्फरपुर के पुरानी बाजार से बरामद कर लिया गया। मुजफ्फरपुर पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पूछताछ में लड़की ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। लड़की को बरामद करने के बाद पुलिस ने उसे कोर्ट में प्रोड्यूस किया जहां उसका बयान कलमबंद किया गया।

वहीं बालिकागृह की निगरानी के लिए जिलास्तर पर बनी टीम में शामिल पुलिस इंस्पेक्टर विनोद कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया है। मुजफ्फरपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर ने उन्हें निलंबित किया है। इंस्पेक्टर पर अपनी जिम्मेदारी को सही तरीके से निर्वहन नहीं करने का आरोप है ।

इससे पूर्व मजिस्ट्रेट की तैनाती में स्वाधार गृह का सील खोला गया। तिरहुत रेंज के डीआईजी अनिल कुमार सिंह ने स्वाधार गृह के कमरे का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कुछ रजिस्टर और कागजात देखे। उन्होंने इस मामले को देख रहीं आईओ, महिला थाने की दारोगा कलावती कुमारी को निर्देश दिया कि यहां जो भी कागजात व रजिस्टर के साथ आपत्तिजनक सामग्री मिले, उसे सूचीबद्ध करते हुए सभी को जब्त करें। महिलाओं व बच्चों के गायब होने की आशंका पर डीआईजी ने स्वाधार गृह का निरीक्षण किया था। 

स्वाधार गृह से गायब महिलाओं की पहचान के लिए पुलिस लगातार प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि बालिका गृह के संचालन से जुड़े लोग ही स्वाधार गृह का भी संचालन कर रहे थे। जांच के दौरान इन दोनों मामलों के तार मिल रहे हैं। बता दें कि शातिर ब्रजेश ठाकुर की सेवा संकल्प एवं विकास समिति ही बालिका गृह, स्वाधार गृह व अल्पावास गृह आदि का संचालन कर रही थी। 


Find Us on Facebook

Trending News