धनकुबेर बनने के चक्कर नप गई बिहार की यह पूर्व महिला मुखिया, एक करोड़ रूपये गबन करने के आरोप में पुलिस ने किया गिरफ्तार

धनकुबेर बनने के चक्कर नप गई बिहार की यह पूर्व महिला मुखिया, एक करोड़ रूपये गबन करने के आरोप में पुलिस ने किया गिरफ्तार

LAKHISARAI : जिले के सूर्यगढ़ा प्रखंड अंतर्गत महेशपुर पंचायत की पूर्व मुखिया को एक करोड़ रूपये के गबन मामले में पुलिस ने गिरफ्तार किया है. मिली जानकारी के अनुसार महेशपुर पंचायत की पूर्व मुखिया को सरकारी राशि गबन करने के आरोप में गढ़ी विशनपुर गांव स्थित घर से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपी पूर्व मुखिया सरोजिनी देवी जदयू नेता एवं पूर्व प्रखण्ड प्रमुख रंजीत मंडल की पत्नी हैं. आरोपी मुखिया विगत पांच वर्षों से राजनीतिक रसूख के बल पर फरार चल रही थी. 

पीरीबाजार थानाध्यक्ष प्रजेश कुमार दुबे ने महिला पुलिस बल के साथ आरोपी मुखिया को गिरफ्तार कर लिया. मिली जानकारी के मुताबिक 2014-15 एवं 2015-16 में आरोपी द्वारा सरकारी राशि का गबन कर लिया गया था. जिसमें पूर्व मुखिया सरोजिनी देवी एवं पूर्व पंचायत सचिव विनोद कुमार भगत के खिलाफ तत्कालीन सूर्यगढा प्रखंड विकास पदाधिकारी धर्मवीर कुमार प्रभाकर ने 2016 ई. में 93 लाख 58 हजार चार सौ पचास रुपए के गबन का आरोप लगाते हुए थाना में प्राथमिकी दर्ज कराया था. 

जिसमें 17 लाख 65 हजार रूपये पेंशन हेतु प्रखण्ड नजारत से प्राप्त कर पेंशन राशि को  पेंशनधारियों के बीच वितरण न कर सीधे हड़प  लिया गया था. वहीं 75 लाख 93 हजार चार सौ पचास रूपये 13 वीं वित्त आयोग योजनान्तर्गत योजना संख्या-01/14-15,02/14-15,03/14-15,04/14-15 एवं 01/15-16 में योजना राशि का दुरूपयोग व गबन का आरोप महेशपुर पंचायत के तत्कालीन मुखिया सरोजिनी देवी एवं पंचायत सचिव विनोद कुमार भगत पर आरोप लगाया गया है. 

इस आरोप के बाद से ही दोनों आरोपी पुलिस की नजरों से फरार चल रहे थे. जिसमें शनिवार सुबह पूर्व मुखिया सरोजिनी देवी को गिरफ्तार किया गया एवं पूर्व पंचायत सचिव विनोद कुमार भगत अब भी पुलिस पकड़ से दूर है. वहीं पीरीबाजार थानाध्यक्ष प्रजेश कुमार दुबे ने बताया कि आरोपी पूर्व मुखिया को न्यायिक हिरासत में लखीसराय कोर्ट में प्रस्तुत कर जेल भेज दिया गया. 

लखीसराय से कमलेश की रिपोर्ट


 


Find Us on Facebook

Trending News