बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

नई ऊर्जा, नयी दिशा: पीएम कुसुम योजना के तहत बैंकों ने किसानों को सोलर प्लांट लगाने के लिए ऋण देने पर जताई सहमति

नई ऊर्जा, नयी दिशा: पीएम कुसुम योजना के तहत बैंकों ने किसानों को सोलर प्लांट लगाने के लिए ऋण देने पर जताई सहमति

PATNA:  बिहार में अपनी जमीन पर सोलर प्लांट लगाने के इच्छुक किसानों के लिए पीएम कुसुम योजना के तहत एक अच्छी खबर है। सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय वृद्धि के लिए कई प्रमुख बैंकों ने किसानों को सोलर प्लांट लगाने के लिए ऋण सुविधा उपलब्ध कराने की सहमति दी है। बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड (BSPHCL) के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक संजीव हंस के दिशानिर्देशों के अनुसार, विद्युत् भवन में एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, केनरा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, सेंट्रल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इंडियन ओवरसीज बैंक के प्रतिनिधि शामिल हुए। 



किसानों को दी जाएगी ऋण की सुविधा 

बैठक में साउथ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन एवं बिहार स्टेट पावर जेनरेशन कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक महेंद्र कुमार और नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी के प्रबंध निदेशक डॉ. आदित्य प्रकाश भी उपस्थित थे। बिहार स्टेट पावर जेनरेशन कंपनी लिमिटेड के मुख्य अभियंता दिलीप कुमार ने सभी बैंकों से बात कर उन्हें उक्त मीटिंग के लिए आमंत्रित कर उसका सफलतापूर्वक आयोजन किया। इस बैठक के दौरान, लगभग सभी बैंक प्रतिनिधियों ने किसानों को उनकी जमीन पर सोलर प्लांट लगाने के लिए ऋण की सुविधा प्रदान करने पर अपनी सहमति जताई। मुख्य अभियंता दिलीप कुमार ने  बताया की अन्य बैंकों से भी बात जारी है और जल्द ही वे भी इस योजना से जुड़ कर किसानों को ऋण उपलब्ध कराएंगे।



किसानों की सुविधा सर्वोपरि

बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक संजीव हंस ने कहा कि किसानों को सोलर प्लांट लगाने में वित्तीय सहायता प्रदान करना हमारे लिए महत्वपूर्ण है। बैंकों की भागीदारी से किसानों को ऋण की सुविधा मिलेगी, जिससे वे अपनी जमीन पर सोलर प्लांट लगा सकेंगे और आर्थिक रूप से सशक्त बन सकेंगे। यह कदम न केवल किसानों के लिए बल्कि पूरे राज्य के ऊर्जा क्षेत्र के लिए लाभदायक होगा। सभी बैंकों के प्रतिनिधियों ने इस परियोजना हेतु ऋण उपलब्ध कराने से संबंधित व्यक्ति का नाम और मोबाइल नंबर भी जरी किया है। केनरा बैंक से एस बालाजी (9102184422); बैंक ऑफ बड़ौदा से नीरज कुमार सिंह (8521615963); बैंक ऑफ महाराष्ट्र से  सनी सौरव पांडे (9540931311); इंडियन ओवरसीज बैंक से प्रियंका सिंह (9824664651) एवं सेंट्रल बैंक से अविनाश कुमार झा (9960407969) से उक्त परियोजना हेतु सभी किसान ऋण हेतु विस्तृत जानकारी प्राप्त सकते हैं ।



केंद्र और राज्य सरकारों से सहायता

पीएम कुसुम (फीडर सोलराइजेशन) योजना के तहत, किसानों को उनकी जमीन पर सोलर प्लांट लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत, केंद्र सरकार द्वारा प्रति मेगावाट 1.05 करोड़ रुपये और राज्य सरकार द्वारा प्रति मेगावाट 45 लाख रुपये की अनुदान राशि दी जाएगी। हंस ने बैंकों से किसानों की सहायता करने की सलाह दी थी, ताकि जिन किसानों के पास पूंजी की कमी है लेकिन सोलर प्लांट के अनुकूल जमीन है, वे इसका लाभ उठा सकें। बैंक प्रतिनिधियों ने इस बात को भी समझा कि किसानों की मदद करने से वे आसानी से अपने ऋण की वसूली कर सकेंगे, जिससे किसान भी आर्थिक रूप से संपन्न होंगे। इस बैठक के माध्यम से, इच्छुक किसानों को बैंकों से ऋण सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कदम उठाए गए हैं, जिससे बिहार में सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय वृद्धि हो सके ।


Suggested News