बिहार SIT की जगह अब NIA करेगी फुलवारीशरीफ आतंकी मॉड्यूल की जांच, आज से संभाल सकती है केस की जिम्मेदारी

बिहार SIT की जगह अब NIA करेगी फुलवारीशरीफ आतंकी मॉड्यूल की जांच, आज से संभाल सकती है केस की जिम्मेदारी

PATNA : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिहार दौरे  के दौरान फुलवारीशरीफ में चल रहे आतंकी ट्रेनिंग कैंप को लेकर अब तक कई खुलासे हो चुके   हैं। जिसमें दो दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करने के साथ इसके पाकिस्तान के कनेक्शन के भी सबूत मिले थे। अब तक इस केस की जांच बिहार की एसआईटी कर रही थी। लेकिन, अब जिस तरह के खुलासे हुए हैं, उसके बाद अब इस केस राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) को सौंप दिया गया है। गृह मंत्रालय ने मामले की गंभीरता को देखते हुए फुलवारीशरीफ माड्यूल की जांच एनआइए से कराने का निर्देश जारी कर दिया है। अब एनआईए ही इस केस को लीड करेगी। 

आज संभाल सकते हैं चार्ज

बताया जा रहा है कि आज एनआईए की टीम इस केस को अपने हाथ में ले सकती है। जांच का जिम्मा मिलने के बाद सबसे पहले एनआइए इस मामले की नई प्राथमिकी दर्ज करेगी। सूत्रों के अनुसार, देर रात या शनिवार की सुबह तक एनआइए फुलवारी शरीफ मामले की प्राथमिकी दर्ज कर लेगी।अब एनआइए के पास जांच जाने के बाद दिल्ली से एनआइए के वरीय अधिकारियों की टीम के भी पटना पहुंचने की संभावना है। यहां आकर एनआइए के अधिकारी पटना पुलिस से अब तक की कार्रवाई की पूरी रिपोर्ट लेगी। इसके बाद नए सिरे से अपनी जांच शुरू करेगी।

बता दें कि अभी तक फुलवारीशरीफ माड्यूल की जांच पटना पुलिस की एसआइटी संभाल रही थी जबकि एटीएस समेत कई सुरक्षा एजेंसियां जांच में सहयोग कर रही थीं। मामले का पर्दाफाश होने के बाद से ही एनआइए, रा और आइबी के अधिकारी लगातार पटना में कैंप कर रहे थे। 

एसएसपी ने की थी एटीएस जांच की वकालत

फुलवारीशरीफ मामले का दायरा लगातार बढऩे के बाद से ही इसकी जांच एटीएस या एनआइए को दिए जाने की संभावना जताई जा रही थी। पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने दो दिन पूर्व बिहार पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखकर इसकी जांच एटीएस से कराने की वकालत की थी।

पाकिस्तान के आतंकी नेटवर्क से जुड़ रहे तार

फुलवारीशरीफ मामले की जांच जैसे-जैसे बढ़ रही है, इसके तार पाकिस्तान, दोहा समेत कई इस्लामिक देशों से जुड़ रहे हैं। पीएफआइ और एसडीपीआइ के बाद कट्टरपंथी समूह गजवा-ए-ङ्क्षहद और आइएसआइ से भी पकड़े गए सदस्यों के जुड़ाव की बात सामने आई है।


Find Us on Facebook

Trending News