नौकरी के नाम पर बेरोजगारों को धोखा दे रही नीतीश सरकार! पुरानी बहाली को नया बता नौकरी बांट रहे नीतीश-तेजस्वी, NDA काल में जारी हुआ था रिजल्ट

नौकरी के नाम पर बेरोजगारों को धोखा दे रही नीतीश सरकार! पुरानी बहाली को नया बता नौकरी बांट रहे नीतीश-तेजस्वी, NDA काल में जारी हुआ था रिजल्ट

पटना. बिहार में रोजगार को लेकर भाजपा ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है। बीजेपी ने मौजूदा सरकार पर नौकरी के नाम पर बेरोजगारों को धोखा देने का आरोप लगया है। बीजेपी नेता और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पुरानी बहाली को नया बताकर सीएम नीतीश और डिप्टी सीएम तेजस्वी नौकरी बांट रहे हैं, जो युवाओं के साथ छलावा है। उन्होंने कहा कि जो नौकरी आज ये लोग बांट रहे हैं, उसका रिजल्ट एनडीए सरकार में ही जारी हो गया था।

मंगल पांडेय ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में जिन-जिन पदों पर आज नियुक्ति पत्र बांटा जा रहा है, उस संपूर्ण नियक्ति प्रक्रिया को एनडीए कार्यकाल में पूरा किया गया था। जितने पदों पर आज नियक्ति पत्र दिया जा रहा है। उन सभी एएनएम के 8517, जिला कम्युनिटी मोबलाइजर के 26, सीनियर ट्रीटमेंट सुपरवाइजर के 190 और काउंसलर के 579 पदों के परीक्षा परिणाम 30 जुलाई 2022 को ही प्रकाशित हो गई थी। इन सभी पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) कार्यक्रम के तहत किया गया था। मंगल पांडेय ने कहा कि महागठबंधन पहले रिक्त पदों पर बहाली की नई प्रक्रिया को शुरू करे, उसके बाद जनता को अपनी उपलब्धियों से अवगत कराये और तब अपनी पीठ थपथपाये।

मंगल पांडेय ने कहा कि इसके अलावे पिछले चार वर्षों में लगभग 14 हजार एएनएम और जीएनएम पदों पर बहाली की प्रक्रिया पूर्ण की गई थी। एनएचएम के कार्यक्रम के तहत आगे विभिन्न पदों पर और भी नियुक्तियां करनी हैं। वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री उन नियुक्ति प्रक्रियाओं को शुरू कराएं। यही नहीं एनडीए के शासनकाल में ही एक अगस्त 2022 से बिहार तकनीकी सेवा आयोग (बीटीएससी) द्वारा 12 हजार 771 पदों पर बहाली के लिए विज्ञापन प्रकाशित की गयी थी, जिसमें एएनएम के लिए 10 हजार 709, एक्सरे टेक्निशियन के लिए 803, शल्य कक्ष सहायक के लिए 1096 और इसीजी टेक्निशयन के लिए 163 पदों के लिए आवदेन आमंत्रित किये गये थे। इसके रोस्टर क्लीयरेंस से लेकर बीटीएससी को अधियाचना भेजने, विज्ञापन प्रकाशन एवं आवेदन लेने का कार्य एनडीए के कार्यकाल में हुआ था। 

मंगल पांडेय ने कहा कि महागठबंधन की सरकार इन बहालियों का श्रेय लेने का काम न करे, बल्कि आगे आने वाले समय में स्वास्थ्य विभाग के अंदर नियुक्तियों के लिए जो पूर्व में एनडीए की सरकार के समय से प्रक्रियाएं शुरू हुई हैं, उन्हें पूर्ण करने का काम करे। ताकि राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था में मानव बल की कमी को पूरा किया जा सके। शुक्रवार को जिन एएनएम और काउंसलर सहित विभिन्न पदों पर अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया गया है उन सभी को श्री पांडेय ने बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भरोसा है कि इनके विभाग में योगदान देने से राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं और बेहतर होंगीं, जो पिछले एनडीए सरकार की सोच थी। इन कर्मियों के विभाग में योगदान देने से यह साबित होगा कि एनडीए ने राज्यहित में जो कदम उठाया था, उसका वर्तमान सरकार अनुसरण कर रही है और राज्य के लोगों को रोजगार भी मिल रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News