15 साल से जलजमाव से राहत नहीं : जल कैदी बनकर रह गए हैं कटिहार के लोग, यह है डिप्टी सीएम के गृह जिले का हाल

15 साल से जलजमाव से राहत नहीं : जल कैदी बनकर रह गए हैं कटिहार के लोग, यह है डिप्टी सीएम के गृह जिले का हाल

KATIHAR : लगातार बारिश से बिहार में शहर-शहर,गांव-गांव तक पानी-पानी जैसा नजारा है, इस बीच डिप्टी सीएम सह नगर विकास मंत्री तार किशोर प्रसाद के विधानसभा कटिहार में भी सड़कों पर जलजमाव से लोग जल कैदी बने हुए हैं, शहर के कई इलाके के साथ-साथ लाल कोठी और ड्राइवर टोला के मुख्य सड़क पूरी तरह जलमग्न हैं, जिससे बड़ी आबादी पिछले एक महीने से भी अधिक समय से मजबूरी की जिंदगी जी रहे है। अब लोगों का गुस्सा नगर निगम के जनप्रतिनिधि और डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के खिलाफ नजर आने लगा है

कटिहार नगर निगम क्षेत्र में हो रहे विकास कार्य के दावे के बीच अब विपक्ष भी जल निकासी को लेकर इस व्यवस्था पर आवाज बुलंद कर रहे हैं, कटिहार लाल कोठी मोहल्ला के इस हालात पर स्थानीय लोग और राजद के युवा प्रदेश महासचिव ने स्थानीय नगर निगम और क्षेत्र के विधायक सह बिहार के उपमुख्यमंत्री को भी निशाना बनाया, लोगों ने कहा कि पिछले 1 महीने से अधिक समय से इस इलाके में लोग ना रखिए जिंदगी जीने को विवश है लेकिन अब तक कोई सुधि लेने नहीं आया है लोग परेशान हैं करें तो क्या करें।

यहां रहनेवाले लोगों ने बताया कि पिछले एक माह से पानी जल जमाव की स्थिति है। यहां पानी डंप करने के लिए कोई जगह नहीं है। जिसके कारण पानी सड़क पर जमा रहता है। लोगों की शिकायत है कि डिप्टी सीएम यहां झांकने भी नही आते हैं, लोगो को ऐसे ही जीने के लिए छोड़ दिया गया है

जिले में एक जैसे हालात

राजद के प्रदेश युवा महासचिव आशु पांडेय का कहना है कि यह कटिहार के लोगों के लिए नया नहीं है। यह स्थिति पिछले 15 साल से है। यहां के विधायक तीन बार से जीतते आ रहे हैं। यहां की जनता उनपर विश्वास कर जीत दिलाती है। इस बार तो वह प्रदेश के डिप्टी सीएम भी बन गए है, साथ ही शहरी विकास विभाग की जिम्मेदारी भी है, लेकिन इसके बाद भी वह अपने गृह जिले की स्थिति को सुधारने के लिए कोई काम नहीं कर पा रहे हैं। कटिहार के लोगों को भ्रमाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सत्ता परिवर्तन होता है तो छह माह में इस नारकीय स्थिति से मुक्ति मिल जाएगी।



Find Us on Facebook

Trending News