देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री, भाजपा ने शिवसेना को मात देने के लिए चली अनोखी चाल

देवेंद्र फडणवीस नहीं, एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री, भाजपा ने शिवसेना को मात देने के लिए चली अनोखी चाल

DESK. महाराष्ट्र में हो रहे राजनीतिक उलटफेर का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा. तमाम कयासबाजी पर विराम लगाते हुए महाराष्ट्र में अब एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाने की घोषणा की गई है. वे गुरुवार शाम 7 बजे के बाद पद और गोपनीयता किस शपथ लेंगे. 

दरअसल, महाराष्ट्र की राजनीति में नाटकीय घटनाक्रम का सिलसिला चल रहा है. पहले कहा गया कि राज्य में भाजपा नया अध्याय लिखने जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद एकनाथ शिंदे गुवाहाटी के रेडिसन ब्लू होटल से निकलकर विधायकों के समर्थन वाली चिट्ठी लेकर देवेंद्र फडणवीस से आवास पहुंचे। 


एकनाथ शिंदे के साथ देवेंद्र फडणवीस ने गर्मजोशी के साथ मुलाकात की। इस दौरान भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत दादा पाटिल, आशीष शेलार समेत कई नेता मौजूद रहे। इस मुलाकात के बाद देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे सीधे राजभवन पहुंचे, जहां पर राज्यपाल के साथ मुलाकात की। उस समय कहा गया कि देवेंद्र फडणवीस शाम 7 बजे मुख्यमत्री पद की शपथ ले सकते है। साथ ही एकनाथ शिंदे उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। लेकिन कुछ घंटों के बाद ही पूरा फसाना बदल गया और एकनाथ शिंदे को सीएम बनाने की अधिकारिक घोषणा की गई. 

शिंदे सीएम पद सौंपे जाने पर नरेंद्र मोदी और अमित शाह सहित शीर्ष भाजपा नेताओं का शुक्रिया कहा. साथ ही उन्होंने हिंदुत्व की राजनीति को आगे बढ़ाने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ हमारा प्राकृतिक गठबंधन है इसलिए इसमें कुछ भी नया नहीं है. 

इस बीच, मुख्यमंत्री पद छोड़ने की घोषणा करने के बाद उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौप दिया. 2019 में मुख्यमंत्री बनने के बाद लगातार सरकार को बचाने के लिए संघर्षरत ठाकरे ने अंत में बुधवार शाम कुर्सी छोड़ने की घोषणा की. 


Find Us on Facebook

Trending News