अब बिहार में वंदे भारत एक्सप्रेस एक्सप्रेस ... 30 दिसम्बर को पहली बार चलेगी बिहार में, पीएम मोदी दिखाएंगे हरी झंडी

अब बिहार में वंदे भारत एक्सप्रेस एक्सप्रेस ... 30 दिसम्बर को पहली बार चलेगी बिहार में, पीएम मोदी दिखाएंगे हरी झंडी

पटना. वंदे भारत एक्सप्रेस का बिहार में परिचालन 30 दिसम्बर से शुरू होगा. यह पहली वंदे भारत ट्रेन है जो बिहार के रस्ते से गुजरेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ड्रीम ट्रेनों में एक मानी जानी वाली वंदे भारत को शुक्रवार को पीएम मोदी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. प्रधानमंत्री हावड़ा रेलवे स्टेशन पर वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे. पीएमओ ने कहा कि अत्याधुनिक सेमी हाई स्पीड ट्रेन अत्याधुनिक यात्री सुविधाओं से लैस है. हावड़ा से न्यू जलपाईगुड़ी के बीच चलने वाली यह ट्रेन रास्ते में यह ट्रेन तीन स्टेशन- बारसोई, मालदा, बोलपुर आदि स्टेशनों पर दोनों दिशाओं में रुकेगी. इसमें बिहार में किशनगंज और बारसोई दो प्रमुख स्टेशन हैं जहाँ वंदे भारत का ठहराव होगा. 

पीएम मोदी 30 दिसम्बर को कोलकाता में होंगे. उनके वहां कई कार्यक्रमों में शामिल होने की योजना है. इसमें वंदे भारत को झंडी दिखाना भी शामिल है. कोलकाता में होने वाले अलग अलग कार्यक्रमाँ में बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी रहेंगे. वंदे भारत के बारसोई में ठहराव होने से बिहार के सीमांचल के इलाकों के आधा दर्जन से ज्यादा जिलों को बड़ा लाभ होगा. 

अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि अभी इस मार्ग पर औसतन करीब 10:45 घंटे में 564 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली 14 ट्रेन हैं. उन्होंने बताया कि नई ट्रेन 7:45 घंटे में यह दूरी तय कर लेगी. इससे कोलकाता और पूर्वोत्तर के प्रवेश द्वार सिलीगुड़ी के बीच यात्रा का समय कम हो जाएगा. अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस ट्रेन में 16 डिब्बे होंगे. इनमें से दो डिब्बे चालकों के लिए होंगे. ट्रेन में दो एग्जीक्यूटिव कार जबकि बाकी सामान्य चेयर कार होंगी. प्रत्येक चेयर कार में 78 सीट होंगी और विशेष रूप से डिजाइन की गई मेज होंगी. अधिकारियों ने बताया कि ट्रेन सुबह छह बजे हावड़ा स्टेशन से रवाना होगी और दोपहर डेढ़ बजे न्यू जलपाईगुड़ी पहुंचेगी. एक घंटे रुकने के बाद वंदे भारत एक्सप्रेस दोपहर करीब ढाई बजे न्यू जलपाईगुड़ी से रवाना होगी और रात 10 बजे कोलकाता पहुंचेगी. पूर्वी रेलवे की समयसारिणी के अनुसार ट्रेन एक सप्ताह में छह दिन चलेगी.

वंदे भारत एक्सप्रेस को देश की सेमी हाई स्पीड ट्रेन का गौरव प्राप्त है. नरेंद्र मोदी के वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद इस ट्रेन की परिकल्पना की गई. देश की छह रूटों पर फ़िलहाल यह ट्रेन परिचालित है. यह पहला मौका है जब पूर्वी भारत के राज्यों में वंदे भारत का परिचालन हो रहा है. इसके पहले अन्य ट्रेनें उत्तर भारत, दक्षिण भारत और पश्चिम भारत के राज्यों में थी. इस ट्रेन के परिचालन से हावड़ा से न्यू जलपाईगुड़ी जाने में यात्रियों को 3 से 4 घंटे कम समय लगने की संभवना है. 


Find Us on Facebook

Trending News