पटना के इस स्वास्थ्य केंद्र में दस बजे मिले सिर्फ एक डॉक्टर, कहा सबलोग जाम में फंसे होंगे, ऐसा हमेशा नहीं होता

पटना के इस स्वास्थ्य केंद्र में दस बजे मिले सिर्फ एक डॉक्टर, कहा सबलोग जाम में फंसे होंगे, ऐसा हमेशा नहीं होता

PATNA : अगर आपकी तबियत खराब हो जाए तो आप दौड़े दौड़े डॉक्टर के पास आते है, ताकि समय पर इलाज़ मिल सके। लेकिन जब आपको समय पर इलाज़ ना मिले तो कोई भी घटना आप के साथ हो सकती है। कुछ ऐसा ही मामला देखने को मिला पटना सदर के सबलपुर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में। धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर के इंतज़ार में मरीज बैठे रहे. लेकिन डॉक्टर साहब लापता थे. कुर्सियां खाली थी. दवा काउंटर भी बन्द,रजिस्ट्रेशन काउंटर भी बन्द. चेम्बर की सारी कुर्सियां खाली थी. यहां तक की स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी भी नही पहुंचे थे. 

जिस समय न्यूज़ 4 नेशन की टीम अस्पताल में पहुंची. उस समय तक सिर्फ एक डॉक्टर के अलावे कोई और भी डॉक्टर या फिर कोई स्टाफ मौजूद नहीं था. लेकिन जैसे ही पता चला कि अस्पताल में मीडिया की टीम पहुंची है. वैसे ही रजिस्ट्रेशन काउंटर पर किसी को बैठा दिया गया, सारी व्यवस्थाएं दुरुस्त की जाने लगी. एक मरीज ने बताया कि करीब एक घण्टे से डॉक्टर के इंतज़ार में है. लेकिन कोई भी नही है. एक महिला डिलीवरी के लिए भी पहुँची हुई थी. वह भी डॉक्टर के ही इंतज़ार में थी. 

किसी को कुत्ता काट लिया तो किसी के कान का इलाज़ कराना था. सभी परेशान दिखे. अब सवाल उठता है कि 24 घण्टे स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी रहती है. लेकिन सभी के सभी दिन में नदारद है तो आप समझ सकते है कि जब दिन में यह आलम है तो रात में क्या स्थिति रहती होगी. आप समझ सकते है. 

सबसे बड़ी बात यह है कि इस अस्पताल का कोई बड़े अधिकारी निरीक्षण करने तक नहीं आते. जिसका फायदा यहां के स्टाफ उठाते रहते है. मौके पर मौजूद डॉक्टर रोहित लाल से जब हमने जानना चाहा कि अभी तक आपके अलावे कोई और डॉक्टर नही आये है. मरीन इंतज़ार में है तो उन्होंने कहा कि सभी लोग जाम में फंसे होंगे. ऐसा हमेशा नही होता है. 

पटनासिटी से रजनीश की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News