पटना का 'विशलुव बिल्डकॉन' का RERA ने निबंधन आवेदन किया रद्द, डेलकॉन होम ने भी ग्राहकों को दिया धोखा

पटना का 'विशलुव बिल्डकॉन' का RERA ने निबंधन आवेदन किया रद्द, डेलकॉन होम ने भी ग्राहकों को दिया धोखा

पटनाः राजधानी पटना व आसपास के इलाकों में कई ऐसे बिल्डर हैं जो निबंधन लिए बिना टाउनशिप बसा रहे या अपार्टमेंट का निर्माण करा रहे हैं। वैसे बिल्डरों की एक-एक कर पोल खुल रही है। न्यूज4नेशन ने आपको बिहटा इलाके के डेलकॉन होम की पोल खोली थी। हमने बताया है कि डेलकॉन होम रेरा से निबंधन लिए बिना सैकड़ों ग्राहकों से प्लॉट की बुकिंग कर करोड़ों की राशि की उगाही कर ली। रेरा ने डेलकॉन होम के हाईटेक-टाउन और डेलकॉन होम फेज-3 का निबंधन आवेदन खारिज कर दिया है। रेरा के आदेश के बाद इस बिल्डर के फर्जीवाड़े की पूरी पोल खुल गई। हालांकि तब तक ग्राहक लूट चुके थे। ग्राहकों के मिहनत का करोड़ो रू डेलकॉन होम के पैकेट में पहुंच चुका था। अब एक और बिल्डर के प्रोजेक्ट का निबंधन देने से रेरा ने मना कर दिया है। रेरा ने पटना के विशलुव बिल्डकॉन के एक प्रोजेक्ट का निबंधन आवेदन खारिज कर दिया है। इस तरह से बिल्डर का प्रोजेक्ट विशलुव सिटी प्रोजेक्ट गैर निबंधित हो गया। 

विशलुव सिटी प्रोजेक्ट को नहीं मिला निबंधन

रेरा ने विशलुव बिल्डकॉन कंपनी के एमडी लवकुश शर्मा को विशलुव सिटी प्रोजेक्ट के निबंधन आवेदन खारिज किये जाने की जानकारी दे दी है। 4 अप्रैल 2022 को ही रेरा ने यह आदेश जारी कर दिया था। रेरा ने अपने आदेश में कहा है कि कंपनी ने विशलुव सिटी का नक्शा कंपिटेंट ऑथरिटी से पास नहीं कराया था। इस वजह से निबंधन आवेदन को खारिज किया जाता है। बिल्डर ने विशलुव सिटी के निबंधन के लिए आवेदन दिया था, जिसका नंबर RERAPO6092020195226-1 है . 

डेलकॉन होम के 2 प्रोजेक्ट का निबंधन आवेदन खारिज

 डेलकॉन होम कंपनी ने  हाई-टेक टाउन और डेलकॉन सिटी फेज-3 में सैकड़ों ग्राहकों से प्लॉट का एग्रीमेंट कर सौ करोड़ की वसूली की है। अब जाकर डेलकॉन होम के मालिक की  पूरी पोल खुली है। रेरा ने 15 मार्च को डेलकॉन सिटी फेज-3 और  31 मार्च को हाईटेक-टाउन को निबंधन देने से इंकार कर दिया। हालांकि तब तक काफी देर हो चुकी थी। बड़ी संख्या में ग्राहक बिल्डर के जाल में फंस चुके हैं। जानकार बताते हैं कि डेलकॉन होम ने बजाप्ता जमीन की बिक्री के लिए बड़े स्तर पर सेटिंग की। जमीन बेचने के लिए प्लॉटिंग किया। यह सब सरकार के आदेश के विपरीत जाकर किया। उचित फोरम से नक्शा पास कराये बिना बिहटा इलाके में टाउनशिप बसाने लगा। समझा जा सकता है कि जिस टाउनशिप का नक्शा ही सही नहीं हो वहां पैसा फंसने की पूरी गुंजाईश है। बिल्डर ने पंचायत से नक्शा पास कराकर रेरा से निबंधन लेने का आवेदन कर दिया था। रेरा ने इसे गलत करार दे निबंधन आवेदन को खारिज कर दिया है। डेलकॉन होम के हाई-टेक टाउन और डेलकॉन सिटी फेज-3 का नक्शा गलत निकला। इस वजह से मामला फंस गया. अधिकांश जमीन का ग्राहकों से एग्रीमेंट हो चुका है। वही हाल मार्च में शुरू हुए डेलकॉन सिटी फेज-3 की है। इस प्रोजेक्ट में भी बड़ी संख्या में लोगों ने बुकिंग करा ली है। अब रेरा से दोनों प्रोजेक्ट का निबंधन नहीं मिला लिहाजा निबंधन पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। हाई-टेक टाउन और डेलकॉन सिटी फेज-3 में अगर ग्राहक प्लॉट की बुकिंग कराये होंगे उनके लिए आने वाले दिनों में परेशानी बढ़ सकती है।  



Find Us on Facebook

Trending News