दरभंगा को बनाएं मिथिला की राजधानी, कोशी-सीमांचल के लोग चाहते हैं अपना मिथिला राज्य-संजीव मिश्रा

दरभंगा को बनाएं मिथिला की राजधानी, कोशी-सीमांचल के लोग चाहते हैं अपना मिथिला राज्य-संजीव मिश्रा

DARBHANGA : शनिवार को दरभंगा के होटल गरासिया इंटरनेशनल में मिथिला राज्य निर्माण सेना के कार्यकर्ताओ द्वारा एक प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया. जिसमें मिथिला राज्य निर्माण सेना के प्रदेश महासचिव राजेश झा ने बताया कि मिथिला राज्य आंदोलन की स्वीकार्यता बढ़ाने के लिए जनगणना में मैथिली और मिथिला का अधिकार छीनने का प्रयास पिछले सत्तर वर्षो से जारी हैं। महासचिव राजेश झा ने कहा कि बिहारी सत्ता के दमनकारी नीतियों के विरोध में आगामी 26 सितम्बर से मिथिला पुनर्जागरण यात्रा की शुरूआत होगी। इस यात्रा का आयोजन पांच चरणों में होगा। जिसके प्रथम चरण में मधुबनी,दरभंगा,समस्तीपुर और बेगुसराय के विभिन्न क्षेत्रों से होकर यह यात्रा गुजरेगी। दूसरे चरण में कोशी और तीसरे चरण में पूर्णिया कमिश्नरी को सम्मिलित किया जाएगा।

इस मौके पर मिरानी के संयोजक बद्री पूर्वे ने कहा कि मिथिला राज्य आंदोलन में सभी जाति और धर्म के लोगों की सहभागिता हैं। यात्रा के दूसरे-तीसरे चरणों के संयोजक संजीव मिश्रा ने कहा कि कोसी-सीमांचल के लोग भी अपना मिथिला राज्य चाहते हैं और स्वयं को मैथिल मानते हैं।

मिरानी के संजय सिंह ने कहा कि बिहार से पृथक होकर ही मिथिला अपनी असल शक्ति से भ्रष्टाचार मुक्त रहकर विकसित हो सकता हैं। प्रेस काॅन्फ्रेंस को मिरानी से महिला शक्ति रचना झा ने भी संबोधित किया। वही मौके पर अभय झा,आनंद ठाकुर,जीवानंद झा,राजा खान,सैयद रियाज,अनूप मैथिल,आदित्य मोहन,उदय झा,गोपाल जी,विद्या भूषण,मैथिल अभियानी एवं अन्य मौजूद थें।

 

Find Us on Facebook

Trending News