भाजपा के 'देखो दक्षिण की ओर' मुहिम को मजबूत करेंगे पीएम मोदी, दक्षिण भारत को दे रहे कई बड़ी सौगात

भाजपा के 'देखो दक्षिण की ओर' मुहिम को मजबूत करेंगे पीएम मोदी,  दक्षिण भारत को दे रहे कई बड़ी सौगात

DESK. लोकसभा चुनाव 2024 के पहले भाजपा की कोशिश दक्षिण भारतीय राज्यों में पार्टी को मजबूत करना है। भाजपा की इस मुहिम को नया मुकाम देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कमान संभाल रखी है। वे दो दिनों के दक्षिण भारत दौरे पर हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 और 12 नवंबर को कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के दौरे पर हैं। मोदी कई बड़े प्रोजेक्ट की लॉन्चिंग और नींव रखेंगे। इस दौरान मोदी 25,000 करोड़ रुपए से अधिक की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। दरअसल दक्षिण भारत  में लोकसभा की 130 के करीब सीटें हैं।  ऐसे में भाजपा की कोशिश है कि पहली बार यहां के राज्यों में कमल को खिलाया जाए।  फ़िलहाल भाजपा सिर्फ कर्नाटक में सत्तारूढ़ है जबकि तेलंगाना में उसका संगठन कुछ मजबूत है।  ऐसे में पीएम मोदी नए इलाकों में भाजपा के विस्तार की रणनीति पर काम कर रहे है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार सुबह बेंगलुरु पहुंचे, जहां राज्यपाल थावरचंद गहलोत, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, केंद्रीय मंत्री और भाजपा के सांसद प्रल्हाद जोशी और अन्य व्यक्तियों के साथ-साथ अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। बाद में उन्होंने बेंगलुरु में श्री कनक दास और महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमाओं पर पुष्पांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु में केएसआर रेलवे स्टेशन पर वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने बेंगलुरु में केएसआर रेलवे स्टेशन पर भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उनके बेंगलुरु के अन्य कार्यक्रमों में केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल 2 का उद्घाटन, नादप्रभु केम्पेगौड़ा की 108 फुट की कांस्य प्रतिमा का अनावरण, बेंगलुरु में एक सार्वजनिक समारोह, तमिलनाडु के डिंडीगुल में गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के 36वें दीक्षांत समारोह में शामिल होना है. 

बेंगलुरु में केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल 2 का उद्घाटन, जिसे लगभग 5000 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। ये टर्मिनल इस हवाई अड्डे की यात्री क्षमता को लगभग 2.5 करोड़ की मौजूदा क्षमता से दोगुना करके 5-6 करोड़ यात्री प्रति वर्ष कर देगा। प्रधानमंत्री बेंगलुरु के क्रांतिवीर संगोली रायन्ना (केएसआर) रेलवे स्टेशन पर चेन्नई-मैसुरु वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी। ये देश की पांचवीं वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन है और दक्षिण भारत में इस तरह की पहली ट्रेन है। ये चेन्नई के औद्योगिक केंद्र और बेंगलुरु के टेक एंड स्टार्टअप हब और प्रसिद्ध पर्यटन शहर मैसुरु के बीच कनेक्टिविटी को बढ़ाएगी।

वे 12 नवंबर को सुबह करीब 10:30 बजे प्रधानमंत्री आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में कई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री दोपहर करीब 3:30 बजे तेलंगाना के रामागुंडम में आरएफसीएल संयंत्र का दौरा करेंगे। इसके बाद शाम करीब 4:15 बजे प्रधानमंत्री रामागुंडम में कई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। रामागुंडम में 9500 करोड़ रुपये से अधिक की कई परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास। रामागुंडम में उर्वरक संयंत्र राष्ट्र को समर्पित। रामागुंडम परियोजना की आधारशिला भी 7 अगस्त 2016 को प्रधानमंत्री द्वारा रखी गई थी। उर्वरक संयंत्र के पुनरुद्धार के पीछे प्रेरणा दरअसल शक्ति यूरिया के उत्पादन में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने का प्रधानमंत्री का विजन है। रामागुंडम संयंत्र प्रति वर्ष 12.7 एलएमटी स्वदेशी नीम कोटेड यूरिया उत्पादन उपलब्ध कराएगा।

साथ ही पीएम मोदी तमिलनाडु भी जाएंगे. उनका गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के 36वें दीक्षांत समारोह में संबोधन होगा. दीक्षांत समारोह में 2018-19 और 2019-20 बैच के 2300 से अधिक छात्र डिग्री प्राप्त करेंगे।


Find Us on Facebook

Trending News