पुलिस की दादागिरी : होटल संचालक ने शराब पीने से मना किया तो पहले बांधकर पीटा, फिर भेज दिया जेल

पुलिस की दादागिरी : होटल संचालक ने शराब पीने से मना किया तो पहले बांधकर पीटा, फिर भेज दिया जेल

Desk : पुलिस से लोग यू ही नहीं खौफ खाते है। जो पुलिस आमलोगों की सुरक्षा के लिए है उससे आमलोग दूरी बनाये रखना चाहते है। इसकी वजह यह है कि वह कब दादागिरि दिखाते हुए उनकी पिटाई कर जेल भेज दे इसका कुछ पता नहीं। एक ऐसा ही मामला यूपी से सामने आया है। 

यूपी के हाथरस जिले कीजरेरा पुलिस चौकी के एक एसआई व तीन कांस्टेबल पर होटल में शराब पीने से मना करने पर होटल संचालक से मारपीट का आरोप लगा है। मामला और गंभीर तब हो गया जब पीड़ित ने आरोप जड़ा कि पुलिसवालों ने रात भर उसे चौकी में पेड़ से बांधकर पीटा, सुबह शांतिभंग में चालान कर दिया। एसपी ने सीओ सिकंदराराऊ को जांच सौंपी है।

जिले की सीमा के निकट एटा जनपद की कोतवाली जलेसर का गांव सकरा है। यहां हसायन कोतवाली क्षेत्र के गांव भैंकुरी के रहने वाले सतीश होटल चलाते हैं। सतीश ने पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर को लिखित शिकायत दी है। 

अपनी शिकायत में होटल संचालक ने कहा है कि 23 सितंबर बुधवार को जरैरा चौकी पर तैनात एसआई होटल पर खाना खाने के दौरान शराब पीने लगे। मना किया तो रौब दिखाते हुए गाली गलौज मारपीट कर दी। बचाव को आए दुकानदारों के साथ भी पुलिस कर्मियों ने गाली गलौज मारपीट की।
 
सतीश का आरोप है कि पुलिस कर्मी मारपीट करते हुए उसे ले गए।  जरेरा चौकी पर पेड़ से बांधकर रातभर पिटाई में वह कई बार बेहोश भी हो गया। सुबह करीब साढ़े नौ बजे उसे शराब पीकर गाली गलौज करते हुए दिखाया और शांति भंग के तहत फर्जी रूप से गिरफ्तार कर लिया। सतीश ने बताया कि एसडीएम न्यायालय से उसने जमानत कराई। 

पीड़ित के आरोप को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने घटना की जांच सीओ सिकंदराराऊ को सौंप दी है। सीओ सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि जरैरा चौकी पर तैनात एसआई व तीन कांस्टेबलों के खिलाफ मारपीट व झूठे मामले में फंसाने की शिकायत की गई है। शिकायत की जांच कर एसपी को वह रिपोर्ट सौंपेंगे।


Find Us on Facebook

Trending News