स्वर्ण मंदिर में गुरू ग्रंथ साहिब से बेअदबी पर गरमाई सियासत, सुरक्षा को लेकर चन्नी सरकार को घेरने में जुटा विपक्ष

स्वर्ण मंदिर में गुरू ग्रंथ साहिब से बेअदबी पर गरमाई सियासत, सुरक्षा को लेकर चन्नी सरकार को घेरने में जुटा विपक्ष

AMRITSAR : पंजाब के अमृतसर स्थित सिख्खों के पवित्र स्थल स्वर्ण मंदिर में बड़ी घटना हो गई। यहां शनिवार को भीड़ ने एक अज्ञात शख्स को पीट- पीटकर मार डाला। बताया गया कि वह शख्स मंदिर में रेहरास साहिब पाठ के दौरान रेलिंग से छलांग लगा दी थी और कथित तौर पर गुरु ग्रंथ साहिब जी के सामने रखी तलवार को पकड़ने की कोशिश कर रहा था। जिसे देखने के बाद गुस्साई भीड़ ने उसे पकड़ लिया और उसकी बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी। इस पिटाई से चोटिल युवक की बाद में इलाज के दौरान मौत हो गई। डीसीपी परमिंदर सिंह ने शख्स के मौत की पुष्टि की है। वहीं इस घटना को लेकर अब राजनीतिक माहौल गरमा गया है। घटना के बाद तमाम विपक्षी पार्टियां चन्नी सरकार को घेरने में जुट गई है और इस पूरी घटना की जांच की मांग की है। 

विश्वास करना मुश्किल, एक व्यक्ति का काम नहीं

स्वर्ण मंदिर की घटना पर  शिअद अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने आश्चर्य व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि यह विश्वास करना असंभव है कि यह सिर्फ एक व्यक्ति का काम हो सकता है. इसके पीछे स्पष्ट रूप से एक गहरी साजिश है. मुगलों, मसंदों और ऑपरेशन ब्लूस्टार के बाद से श्री हरमंदर साहिब की पवित्रता को कभी भी इस तरह से टारगेट नहीं किया गया. यह विश्वास से परे है.

पूर्व डिप्टी सीएम  सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि इस घटना ने पूरे सिख समुदाय को झटका दिया है. ये सिखों के मन को ठेस पहुंचाने और राज्य में शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की साजिश लगती है. बादल ने राज्य सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि इस तरह की साजिश रचे जाने के पुख्ता संकेत मिल रहे 

अमरिंदर सिंह ने भी उठाए सवाल

मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- दरबार साहिब में श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी के प्रयास की भीषण घटना की कड़ी निंदा करता हूं. सरकार को इस बात की तह तक जाना चाहिए कि इस आदमी ने इतना घिनौना काम क्यों किया! साथ ही पंजाब भाजपा के अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने कहा- अमृतसर में श्री दरबार साहिब में जो बे-अदबी करने का प्रयास किया गया, मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं। 

गृहमंत्री से हुई बात 

पंजाब के गृह मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने भी हरिमंदिर साहिब गुरुद्वारे में कथित तौर पर प्रवेश करने वाले व्यक्ति की मौत की पुष्टि की है.वहीं, बीजेपी नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने साजिश का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि इस घटना को लेकर उनकी गृहमंत्री अमित शाह से बात हुई है. उन्होंने जांच सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया है. 

सीएम ने दिए जांच के आदेश

इधर, मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि श्री हरिमंदिर साहिब के गर्भगृह में श्री रेहरास साहिब के पाठ के दौरान श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के प्रयास जैसे दुर्भाग्यपूर्ण और जघन्य कृत्य की निंदा करता हूं. इस मामले के जांच के आदेश दे दिए गए हैं.'एक आदमी का काम नहीं हो सकता ये'

जहां घटना हुई, वहां सिर्फ बैठने की अनुमति

बताया जा रहा है कि युवक अचानक से ग्रिल के ऊपर से कूदकर साहिब जी के पास पहुंच गया था. मुख्य भवन में केवल ग्रंथी को बैठने की अनुमति है. दरबार साहिब में इसी जगह पवित्र श्री गुरु ग्रंथ साहिब का प्रकाश है और संगत माथा टेकती है.


Find Us on Facebook

Trending News