परीक्षा पास करने के बाद मिली थी नौकरी, अब प्राइवेट एजेंसी को सौंपने की तैयारी, विरोध में उतरा कार्यपालक सहायक सेवा संघ

परीक्षा पास करने के बाद मिली थी नौकरी, अब प्राइवेट एजेंसी को सौंपने की तैयारी, विरोध में उतरा कार्यपालक सहायक सेवा संघ

सुपौल। त्रिवेणीगंज  में बिहार राज कार्यपालक सहायक सेवा संघ बिहार के आह्वान पर अपनी विभिन्न मांगों को लेकर कार्यपालक सहायकों ने तीसरे दिन बुधवार को त्रिवेणीगंज  प्रखंड मुख्यालय के परिसर के समक्ष काला बिल्ला लगाकर विरोध जताया। 

कार्यपालक सहायक ने कहा कि बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसायटी समान प्रशासन विभाग के द्वारा विज्ञप्ति विज्ञापन के निर्देश के आलोक में जिलास्तर पर कार्यपालक सहायकों की नियुक्ति हुई थी।जिसमें जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में गठित चयन समिति के द्वारा लिखित परीक्षा एवं कंप्यूटर दक्षता परीक्षा पास करने के बाद जॉइनिंग कराई गई थी। अब सरकार हमलोगों को किसी एजेंसी के हाथों सौंपना चाहती है और जो मेरे साथी है, उसको समय से पहले हटाया है जो काफी दुखद है। 

   उन्होंने कहा कि जो चौधरी कमेटी रिपोर्ट को तैयार करने में 6 वर्ष  लगाया है, उस रिपोर्ट तैयार करने के बाबजूद हमलोगों के हित में नहीं है उस रिपोर्ट में हमलोगों को शामिल किया जाए, सभी कर्मियों ने कहा अगर हमारी मांगे नहीं पूरी होती है तो हम लोग इससे भी बड़ा आंदोलन करेंगे जिसकी जवाबदेही सरकार की होगी।

विरोध जतानेवालो में पर नरेश कुमार, आकांक्षा कुमारी,रंजना भारती,पूजा कुमारी, काजल कुमारी, पंकज कुमार,नरेश कुमार, पप्पू कुमार, नितेश कुमार, राजीव कुमार, सागेन्द्र कुमार, मो0 एजाज रिजवान, सुनील कुमार, संजीत कुमार, एहसान अंसारी, सदानंद सुमन, रंजीत कुमार देव, धीरज वर्मा, ओमप्रकाश कुमार सहित  मौजूद थे।


Find Us on Facebook

Trending News