स्वतंत्रता दिवस पर नालंदा के प्रिया और गोपाल ने दुर्गम चोटी 'यूनाम पीक' पर लहराया परचम, बिहारशरीफ में किया गया भव्य स्वागत

स्वतंत्रता दिवस पर नालंदा के प्रिया और गोपाल ने दुर्गम चोटी 'यूनाम पीक' पर लहराया परचम, बिहारशरीफ में किया गया भव्य स्वागत

नालंदा. जिले के दो पर्वतारोही प्रिया और गोपाल ने स्वतंत्रता दिवस पर हिमाचल प्रदेश के कुल्लू मनाली स्थित 20 हजार की दुर्गंम चोटी 'यूनाम पीक' पर परचम लहराकर जिले का नाम रौशन किया है. 'यूनाम पीक' फहत करने के बाद दोनों आज बिहारशरीफ पहुंचे हैं, जहां दोनों का रेलवे स्टेशन पर भव्य स्वागत किया गया.

बिहारशरीफ के खंदकपर मोहल्ला निवासी  अनिल कुमार गुप्ता की पुत्री प्रिया गुप्ता और राजगीर के नईपोखर निवासी पंकज कुमार के पुत्र गोपाल कुमार ने 'यूनाम पीक' पर झंडा फहराकर जिले के गौरव को बढ़ाया है. इससे पहले भी वे दोनों केदारकांटा और फ्रेंडशिप की चोटी पर तिरंगा फहरा चुके हैं.

प्रिया और गोपाल ने बताया कि बिहारशरीफ नगर निगम परिसर से 'स्वच्छ बिहारशरीफ सुंदर बिहारशरीफ' का संदेश लेकर नगरआयुक्त अंशुल अग्रवाल ने 9 अगस्त को रवाना किया था. इसके बाद 10 अगस्त को देश के विभिन्न क्षेत्र से आए 13 प्रतिभागियों के साथ चढ़ाई शुरू किया. खराब मौसम और कड़ाके की ठंडी ने इनके हौसलों को नहीं तोड़ा और 15 अगस्त को करीब 11 बजकर 40 मिनट पर 10 प्रतिभागियों के साथ उन्होनें चोटी पर फतह पाया.

यह पिक मनाली की सबसे दुर्गंम चोटी मानी जाती है , जिसपर चढ़ाई करना बहुत ही मुश्किल है. इसके बावजूद दोनों ने हिम्मत नहीं हारा और समय के साथ यहां पहुंचकर फतह हासिल किया. यह पल उनके जीवन का सबसे सुखद पल था. हालांकि उनके साथ 3 अन्य प्रतिभागी के नहीं पहुंचने पर थोड़ा मलाल भी है.

प्रिया और गोपाल ने बताया कि माउंट एवरेस्ट की चोटी पर तिरंगा लहराने की उनकी इच्छा है. इसके लिए वे अभी से कड़ी मेहनत कर रही हैं. दोनों के बिहारशरीफ  लौटने पर रेलवे स्टेशन पर भव्य नागरिक अभिनंदन किया गया.

Find Us on Facebook

Trending News