पुलिस की गिरफ्त में आया पटना ग्रामीण क्षेत्र का आतंक बन चुका शूटर जीवन, कई अपराधों को दे चुका हैं अंजाम

पुलिस की गिरफ्त में आया पटना ग्रामीण क्षेत्र का आतंक बन चुका शूटर जीवन, कई अपराधों को दे चुका हैं अंजाम

पटना। पटना पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने पटना में मर्डर की साजिश रच रहे 2 कुख्यात अपराधियों और एक नेपाल के शूटर जीवन यादव को धर दबोचा है। पुलिस गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ कर रही है।

 मिली जानकारी के मुताबिक पटना के पालीगंज अनुमंडल में पूर्व पैक्स अध्यक्ष पर हुए जानलेवा हमले में पालीगंज पुलिस ने 18 जिंदा कारतूस ,1  नाइन,एम एम पिस्टल 2 देसी कट्टे औऱ इंटरनेट इस्तेमाल के लिए राऊटर के साथ तीन कुख्यात अपराधियों को रानी तलाब थाना इलाके के काब गांव से गिरफ्तार किया है, जहां ये तीनों किसी की हत्या करने की साजिश रच रहे थे। पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि काब गांव के बगीचा में सुपारी लेकर हत्या करने के लिए अपराधी जमे हैं इसी पर पालीगंज एस डी पी ओ मोहम्मद तनवीर अहमद अपनी पूरी टीम के साथ छापेमारी की जिसके बाद ये लोग बाइक स्टार्ट करने लगें इसी बीच पुलिस ने चारों तरफ से इसलोगों को घेर लिया और सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। जिनमें से एक शूटर नेपाल का रहनेवाला है।

दरअसल पिछले महीने पालीगंज के सरैया गाँव में देर शाम को पूर्व पैक्स अध्यक्ष मदन सिंह अपने घर पर बैठे थे इसी बीच अपाची बाइक से सवार तीन अपराधी आये और ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे भागने के क्रम में पैक्स अध्यक्ष को दो गोली उनके पैरों में लगी थी जिसके बाद चिंताजनक हालात में उनको पटना रेफर कर दिया गया था।पालीगंज पुलिस ने इस कांड एक चुनौती के रूप में लिया था और वरीय अधिकारियों ने इस कांड के खुलासे के लिए एक टीम भी गठित की थी जिसमें बिक्रम थाना और रानितलाब थाना के  एस एच ओ को रखा गया था।

एस डी पी ओ मोहम्मद तनवीर अहमद ने बताया कि बीते रात को सूचना मिली थी तीन अपराधी किसी की हत्या करने जा रहें हैं जो काब गाँव के बगीचा में बैठे हैं पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए छापेमारी की जिसमें तीनों को असलहे और गोलियों के साथ धर दबोचा गया।इन तीनो का आपराधिक इतिहास भी है तीनों क्रमशः फुलवारीशरीफ , नेपाल और काब के रहनेवाले हैं ये लोग सुपारी लेकर हत्या करते हैं अपराधी मदन सिंह के बेटे मनोज सिंह की हत्या करने आये थे यह खूनी वारदात जमीन के विवाद में वर्चस्व को लेकर हुआ था।इनकी संलिप्तता दुल्हीनबाज़ार में हुए मुखिया सह जद यू नेता संजय वर्मा में भी है इनलोगो ने स्वीकार किया है मुखिया की हत्या में इसी अपाची बाइक का इस्तेमाल हुआ था और उस कांड के सूत्रधार भी यही लोग हैं। सभी को हिरासत में लेते हुए जेल भेजा जा रहा है।



Find Us on Facebook

Trending News